सीएम विंडो पर आने वाली शिकायतें निर्धारित समयावधि में निपटायें : उपायुक्त सिवाच

सीएम विंडो पर आने वाली शिकायतें निर्धारित समयावधि में निपटायें : उपायुक्त सिवाच

-कागजरहित कामकाज को बढ़ावा देने के लिए ई-ऑफिस को बनायें सफल
– अंत्योदय सरल केंद्र के माध्यम से आम जनमानस को दें बेहतरीन सेवाएं
– गैर-हाजिर अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए लिखें उच्चाधिकारियों को  

रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत। उपायुक्त ललित सिवाच ने सीएम विंडो पर आने वाली शिकायतों को पूर्ण गंभीरता से लेते हुए प्राथमिकता के आधार पर समाधान करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सीएम विंडो पर कोई भी शिकायत लंबित नहीं रहनी चाहिए। किसी भी प्रकार की लापरवाही भी स्वीकार्य नहीं है। साथ ही उन्होंने बैठक में नदारद अधिकारियों के प्रति भी कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए निर्देश दिए कि अनुपस्थित अधिकारियों के खिलाफ उनके उच्चाधिकारियों को सख्त कार्रवाई के लिए पत्र लिखें।

उपायुक्त सिवाच शनिवार को लघु सचिवालय में सीएम विंडो तथा ई-ऑफिस और अंत्योदय सरल केंद्र की समीक्षात्मक बैठक ले रहे थे, जिसकी शुरुआत उन्होंने सीएम विंडो से की। उन्होंने कहा कि सीएम विंडो में सुधार की आवश्यकता है। इसके लिए सभी अधिकारियों को एकजुटता के साथ प्रयास करने होंगे, ताकि जिले की रैंकिंग में भी सुधार आये। सीएम विंडो पर आने वाली शिकायतों को संबंधित विभाग तुरंत प्रभाव से अंडरटेक करें। इसके बाद एक्शन टेकन रिपोर्ट (एटीआर) प्रेषित करें। कोई भी शिकायत ओवरड्यू नहीं होनी चाहिए। शीघ्रातिशीघ्र शिकायतों का समाधान किया जाए। उन्होंने विशेष रूप से हाऊसिंग बोर्ड, श्रम विभाग, जिला परिषद, खनन विभाग, नगर निगम, डीडीपीओ और मार्केट कमेटी गोहाना को लंबित शिकायतें जल्द से जल्द निपटाने के निर्देश दिए।

उपायुक्त सिवाच ने कहा कि कागजरहित कार्यालय संचालित करने के लिए ई-ऑफिस को बढ़ावा देना जरूरी है। आधुनिक दौर में ई-ऑफिस जरूरी है। सभी विभाग ई-ऑफिस के माध्यम से फाइलों का आदान-प्रदान करें। यह कोई कठिन कार्य नहीं है। एक बार दिशा दे दी गई तो फिर नियमित रूप से सरलता के साथ ई-ऑफिस जारी रहेगा। इसके लिए जरूरी मदद प्रदान की जाएगी। उपायुक्त ने अंत्योदय सरल केंद्र के माध्यम से दी जाने वाली सेवाओं व योजनाओं के सुचारू संचालन के लिए भी विशेष दिशा-निर्देश दिए। अंत्योदय सरल में भी जिला में सुधार की जरूरत है। अंत्योदय सरल के माध्यम से करीब 540 योजनाएं/सेवाएं प्रदान की जा रही हैं। आम जनमानस को सभी सरकारी कल्याणकारी योजनाओं तथा सेवाओं का पूर्ण लाभ मिलना चाहिए। इस दौरान उपायुक्त ने बैठक में गैर-हाजिर अधिकारियों के प्रति भी कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए उनके विरूद्ध कार्रवाई के निर्देश दिए।

राजनीति हरियाणा