सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार करने बारे सीटीएम को दिया ज्ञापन 

सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार करने बारे सीटीएम को दिया ज्ञापन 

सरकार को 11 सूत्री ज्ञापन जिला उपायुक्त के माध्सम से भेजा

रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत। जन स्वास्थ्य अभियान के अन्तर्गत सर्व कर्मचारी संघ एवं हरियाणा ज्ञान विज्ञान समिति सोनीपत द्वारा संयुक्त रूप से मीटिंग का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता जन स्वास्थ्य अभियान सोनीपत के संयोजक कृष्ण वत्स एवं  सर्व कर्मचारी संघ सोनीपत के जिला प्रधान रामेहर शर्मा द्वारा की गई। मीटिंग में हरियाणा के वर्तमान स्वास्थ्य ढांचे पर चिंता करते हुए, वक्ताओं बिजेंद्र चहल, कृष्ण मलिक, सीलकराम मलिक, अजमेर चौहान आदि ने कहा कि वर्तमान स्वास्थ्य ढांचा लम्बे समय से चिकित्सकों एवं अन्य स्टाफ तथा बुनियादी स्वास्थ्य सुविधाओं से जूझ रहा है।

हमारा मौजूदा स्वास्थ्य ढांचा सामान्य अवस्था में ही लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं देने में नाकाम है तो ऐसे में कोरोना जैसी महामारी की स्थिति में तो बेहद लाचार और बेबस होना ही था। यही वजह है कि कोरोना की पहली लहर के समय ही वैज्ञानिकों एवं डाक्टरों द्वारा चेतावनी के बावजूद दूसरी लहर के समय लोगों को अस्पतालों में आक्सीजन, वेंटिलेटर और बेड़ की सुविधाएं नहीं मिल पाई। सार्वजनिक स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत करके ही कोरोना जैसी महामारियों एवं लूट खसोट से जनता को बचाया जा सकता है। इस अवसर पर जिला उपायुक्त के प्रतिनिधी सीटीएम के माध्यम से सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार एवं मजबूत करने बारे सरकार को 11 सूत्री ज्ञापन दिया।

ज्ञापन में मांग की गई कि स्वास्थ्य सेवाओं को मौलिक अधिकार में शामिल करते हुए बढती जनसंख्या के अनुपात में नये पद स्वीकृत करते हुए नियमित भर्ती की जाये व कोरोना प्रबंधन में शामिल तमाम स्वास्थ्य कर्मियों व कार्यकर्ताओं को सरकार की ओर से आर्थिक सहायता एवं बचाव उपकरण दिये जायें। कोविड टीकाकरण की गति को तेज करते हुए सभी नागरिकों को मुफ्त टीकाकरण हो, ताकि संभावित तीसरी लहर को रोका जा सके। कार्यक्रम का संचालन जय भगवान दहिया ने किया। इस अवसर पर ओमप्रकाश मलिक, ब्रह्म सिंह दहिया, राजीव खत्री, हवासिहं, जोगेंद्र सिंह, राजबीर मलिक, अशोक, संदीप तूर, रणबीर मलिक आदि विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

हरियाणा हेल्थ