सिरसा में मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाने आए किसानों पर लाठीचार्ज

0
सिरसा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल को काले झंडे दिखाने आए किसानों को हिरासत में लेकर ले जाती पुलिस।
सिरसा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल को काले झंडे दिखाने आए किसानों को हिरासत में लेकर ले जाती पुलिस।

राजेन्द्र कुमार, सिरसा। हरियाणा के सिरसा में आज मुख्यमंत्री मनोहर लाल को काले झंडे दिखाने पहुंचे किसानों पर पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी। वही कुछ किसानों को हिरासत में लेकर पुलिस अनंयत्र ले गई। बता दें कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर आज बाद दोपहर हवाई मार्ग से सिरसा पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने सिरसा के नागरिक अस्पताल में जिला के प्रशासनिक व स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े अधिकारियों के साथ बातचीत करनी थी। मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर सिरसा शहर में चप्पे-चप्पे पर बैरिकेड लगाकर पुलिस बल तैनात किया था। बावजूद इसके सैकड़ों किसान नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री के कार्यक्रम स्थल तक पहुंच गए।

वहीं दूसरी ओर शहर के शहीद भगत सिंह स्टेडियम में पक्का मोर्चा लगाकर अनिश्चितकालीन धरना पर बैठे किसान हरियाणा किसान मंच के प्रदेश अध्यक्ष प्रह्लाद सिंह भारूखेड़ा की अगुवाई में मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाने वहां से रवाना हुए तो हाउसिंग बोर्ड चौक पर पुलिस ने चारों और नाकेबंदी करते हुए उन्हें अपने हिरासत में ले लिया और सदर थाना में ले जाकर बैठा दिया। मुख्यमंत्री के सिरसा आगमन को लेकर पुलिस व राज्य व केंद्र सरकार की खुफिया एजेंसियां सुबह से ही सतर्क थी। मगर किसानों ने उनकी आंखों में धूल झोंकते हुए यकायक नागरिक अस्पताल के पास काले झंडे उठाकर नारेबाजी करते पहुंच गए। किसानों ने एयर फोर्स स्टेशन से नागरिक अस्पताल तक पहुंचने वाले मार्ग जहां से मुख्यमंत्री ने गुजरना था पर जाम लगा दिया और नारेबाजी करने लगे। किसानों की नारेबाजी को देखकर जिला के उच्च प्रशासनिक अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। किसान नेता हरजिंदर सिंह, हैप्पी सिंह राजा, बरार, इकबाल सिंह व हरजिंदर सिंह आदि ने बताया कि एक और तो राज्य सरकार कोरोना संक्रमण का बहाना देकर लॉकडाउन लगा रही है। वही दूसरी ओर मुख्यमंत्री प्रदेश भर में घूम कर अधिकारियों की बैठक ले रहे हैं, जहां सैकड़ों अधिकारियों की भीड़ इक_ी हो रही है। उन्होंने कहा कि यह राज्य सरकार का दोहरा मापदंड है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के हेलीकॉप्टर के सिरसा एयरपोर्ट पर लैंडिंग करने के बाद किसानों द्वारा नागरिक अस्पताल के पास मार्ग अवरुद्ध कर देने से बनी स्थिति को भागते हुए पुलिस ने वहां एकत्रित किसानों पर ताबड़तोड़ लाठीचार्ज कर दिया। जिससे कई किसान वहां से भाग खड़े हुए तो काफी किसान वहीं पुलिस का सामना करते हुए डटे रहे। पुलिस ने इन आंदोलनकारी किसानों को हिरासत में लेते हुए एक बस में भरकर ले गए। हिरासत में लिए किसान राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। मुख्यमंत्री के सिरसा से प्रस्थान कर देने के बाद पुलिस ने हिरासत में लिए इन किसानों को रिहा कर दिया। हरियाणा किसान मंच के प्रदेश अध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारू खेड़ा ने किसानों पर किए गए लाठीचार्ज की कड़े शब्दों में निंदा की है। उन्होंने कहा कि पुलिस की लाठियों से किसान के तन से निकले खून के कतरे का बदला सरकार को चुकता करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here