जल शक्ति अभियान की सफलता में एकजुट प्रयासों की जरूरत

0
 सोनीपत। सीएम की वीडियो कांफे्रंस के दौरान जिला अधिकारी।
 सोनीपत। सीएम की वीडियो कांफे्रंस के दौरान जिला अधिकारी।

जिले में पर्याप्त संख्या में कोविड-बैड, संभावित स्थिति के चलते की जा रही वृद्धि, – मुख्यमंत्री मनोहर लाल की विडियो कांफ्रेंस के आधार पर दिए जरूरी दिशा-निर्देश

रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत। कार्यकारी उपायुक्त एवं अतिरिक्त उपायुक्त अशोक कुमार बंसल ने कहा कि कोविड-19 कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जिले में हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। कोरोना संक्रमितों के लिए हैल्पलाईन नंबर 1950 के माध्यम से हर संभव सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। भविष्य में संभावित स्थिति के दृष्टिगत जिला में कोरोना बैड बढ़ाये जा रह हैं। उपायुक्त का कार्यभार संभाल रहे अतिरिक्त उपायुक्त अशोक बंसल ने यह जानकारी विडियो कांफें्रस के माध्यम से हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को दी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल गुरूवार को विडियो कांफ्रेंस के जरिये जिला उपायुक्तों की बैठक ले रहे थे, जिसमें उन्होंने कोविड-19 तथा फसलों की खरीद व उठान और जल शक्ति अभियान की समीक्षा की।

विडियो कांफ्रेंस के उपरांत कार्यकारी उपायुक्त बंसल ने संबंधित अधिकारियों की बैठक लेते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच सोनीपत में स्थिति अभी पूर्णतया नियंत्रण में हैं। स्थिति को आगे भी नियंत्रण में ही रखा जाएगा, जिसके लिए हर संभव कदम उठाये जा रहे हैं। कोरोना संक्रमितों के लिए जिले में पर्याप्त संख्या में बैड हैं। इनकी संख्या और बढ़ाई जा रही है, जिसके लिए निजी अस्तपालों को भी कोविड अस्पताल के रूप में परिवर्तित किया गया है। इससे जिले में कोविड बैड तथा ऑक्जिसन बैड और वेंटिलेटर्स की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। हर प्रकार की स्थिति पर गंभीरता से नजर रखी जा रही है। लोगों को भी जारी हिदायतों की पूर्ण अनुपालना करनी चाहिए।

मास्क के प्रयोग के साथ अनिवार्य  रूप से सोशल डिस्टेंसिंग अपनायें। बंसल ने रबी सीजन के तहत फसलों की आवक तथा खरीद और उठान को लेकर भी गंभीरता से समीक्षा की। उन्होंने अनाज मंडियों व खरीद केंद्रों में आवक के साथ खरीद व उठान की जानकारी लेते हुए जरूरी निर्देश दिए। उन्होंने जल शक्ति अभियान के तहत भी जिला में जारी कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि जल अनमोल है, जिसकी हर एक बूंद का संरक्षण जरूरी है। जल की एक भी बूंद व्यर्थ नहीं जानी चाहिए। इसके लिए सबको एकजुट प्रयास करने चाहिए। भूजल की स्थिति को सुधारने के लिए वर्षा के जल का संग्रहण करना होगा। इसके लिए रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम स्थापित किये जा रहे हैं। बरसाती पानी के संग्रह  के लिए अन्य उपाय भी किये जा सकते हैं। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक जशनदीप सिंह रंधावा, जगदीश चंद्र शर्मा, विश्राम मीणा, सलोनी शर्मा, अमरदीप सिंह, जितेंद्र जोशी, शशि वसुंधरा, डा. अनमोल, डा. जेएस पूनिया, डा. आनंद आदि अधिकारीगण मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here