धोखाधडी करके पैसे हडपने का आरोपी गिरफतार

0
कुरुक्षेत्र< । जिला पुलिस कुरूक्षेत्र ने धोखाधडी करके पैसे हडपने का आरोपी को किया गिरफतार। थाना सदर थानेसर के एएसआई रविन्द्र कुमार ने धोखाधडी करने के आरोपी गुरमीत सिहं वासी भगवान नगर कालोनी पिपली को गिरफतार करने मे सफलता हासिल की है । यह जानकारी पुलिस अधीक्षक कुरूक्षेत्र श्रीमति आस्था मोदी ने दी। इस बारे मे विस्तृत रूप से जानकारी देते हुए श्री मति मोदी ने बताया कि 8 अप्रैल 2019 को माननीय मुख्यमंत्री हरियाणा सरकार कार्यलय से डाक द्वारा एक शिकायत प्राप्त हुए जिसने शिकायतकर्ता अरसद वासी गांव जैनपुर साधान जिला करनाल ने बताया कि उसने एक कार एच0आर0 041एफ0-0327 गुरमीत सिंह वासी बीएनसी पिपली जो कि कार बेचने व खरीदने का काम कुरुक्षेत्र मे करता है उससे खरीदी थी। उसने गाडी के 90 हजार रूपये दे दिये थे तथा बाकी पर लोन लेने बारे बातचीत हुई थी, लेकिन गुरमीत सिंह ने उसके साथ धोखाधडी से कार के नकली कागजात बनाकर उसको दे दिये और गाडी के सारी रकम वसूल कर ली। जब उसने गाडी की आर सी को आन लाईन चैक किया तो गाडी किसी और के नाम पर थी। जब उसने इस बारे में गुरमीत सिहं से बात की तो उल्टा उसने उसको जान से मारने की धमकी दी और कहा कि हमने गाडी की आर सी तुम्हारे नाम पर बनवा दी है इसके बाद हमारी कोई जिम्मेवारी नही है। जब उसने गाडी की आर.सी. को फर्जी बताया तो वह यह बात मानने को तैयार नही था और कहा की तुम्हारी गाडी की आर.सी. को करनाल आर्थोरिटी मे दर्ज करवा दिया है । लेकिन उसने गाडी की डिटेल निकलवाई तो गाडी किसी और अन्य व्यक्ति के नाम पर दर्ज थी। जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच आरम्भ कर दी थी। एएसआई रविन्द्र कुमार को गुप्त सूचना मिली की गाडी की नकली आरसी बनाकर बेचने वाला आरोपी इस समय सैक्टर-5 की मार्किट मे खडा है। सूचना के आधार पर एएसआई रविन्द्र कुमार, एसआई सूरजाराम, हवलदार नरेश कुमार, सिपाही राजेश कुमार की टीम ने सूचना के आधार पर आरोपी गुरमीत सिहं को सैक्टर-5 की मार्किट से काबू करके गिरफतार कर लिया है। जिसने पूछताछ के दौरान बताया कि माह जुलाई 2018 में अरशद वासी जैनपुर साधान जिला करनाल उसके पास एक कार खरीदने के लिए आया था। उसने और संदीप उर्फ संजीव वासी गांव कलालमाजरा जो कि कार खरीदने बेचने का काम करता है को किशनपुरा रोड पिपली बुलाकर अरशद को कार दिखाई थी जो अरशद को कार पंसन्द आ गई जिसका न0 एचआर 41 एफ-0327 था। जिसका सौदा 1 लाख 40 हजार रूपये मे हो गया जिसने 90 हजार रूपये उसको किस्तो मे दे दिये और बाकी की रकम पर लोन करवाने बारे कहा। जिस पर उसने व संदीप ने साजिश रचकर संगम प्राईवेट लिमिटिड फाईंनैस की एक रशीद 3500 रूपये की जाली तैयार करके उसको दे दी। उसके बाद उन्होने उसको कार की आर सी व इन्शोरेन्स देने बारे कहा। तो संदीप उर्फ संजीव ने कहा कि भारत नेटवर्क के नाम से तरावडी मे दुकान है आप 5000 रूपये देकर उसके पास से आरसी व इन्श्योनेन्स लेकर आ जाओ। संदीप के कहने पर भारत नेटवर्क की दुकान तरावडी मे जाकर दुकान पर भारत नाम के लडके से आरसी व ईन्श्योरेन्स दे दिया जिसको चैक करने पर आरसी भारत नेटवर्क तरावडी के नाम बता रहा है। गुरमीत ने पूछताछ के दौरान बताया कि उसने और संदीप ने मिली भगत करके धोखाधडी की नियत से संगम फाईनैस की फर्जी कार की आरसी व इन्श्योरेन्स भारत नेटवर्क तरावडी के नाम पर तैयार की थी। जिसने पूछताछ के दौरान बताया कि संदीप उर्फ संजीव अमृतसर व हिमाचल प्रदेश शिमला मे रहता है। कार बेचने पर उसके हिस्से मे 35 हजार रूपये आये थे जिसको उसने खर्च कर दिया है। जिसको पुलिस ने गिरफतार करके माननीय अदालत मे पेश करके पुलिस रिमाण्ड पर लिया जाएगा तो दुसरे आरोपी संदीप उर्फ संजीव कुमार को गिरफतार किया जा सके और फर्जी आरसी बनाने मे इस्तेमाल की जाने वाली मोहर, आरसी, इन्श्योरेन्स को बरामद करवाया जाना है ।   मारपीट, छीना झपटी का आरोपी गिरफतार<

जिला पुलिस कुरूक्षेत्र ने मारपीटकर, छीनाझपटी, छेडछाड व आगजनी के आरोपी को गिरफतार करने मे सफलता हासिल की है । इस बारे मे जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि थाना केयुके पुलिस ने मारपीटकर, छीनाझपटी, छेडछाड व आगजनी के आरोपी को गिरफतार करने मे सफलता हासिल की है। कर्मबक्स वासी फतुहपुर ने थाना केयुके मे पुलिस को दी अपनी शिकायत मे बताया था कि उसने फतुहपुर कालोनी की धर्मशाला मे सीएससी का सैंटर खोला हुआ है। उसके चाचा के लडके सुनील खान ने 12 जुलाई 2019 को उसी कालोनी की लडकी के साथ प्रेम विवाह कर लिया था। इस शादी से लडकी के घर और परिवार वाले शादी का विरोध कर रहे थे। दोपहर के समय वह अपने घर पर खाना खा रहा था और चाची व उसकी बहन भी घर पर थे उसी समय उसके गांव के जयसिंह, बलदेव, गुरदेव, सतपाल, मुकेश, मोनू, सुदेश, संतोष, दौलत, जंगीदर, मंदीप, रोशन, जीयालाल, सोनू, लालचन्द और काफी सारी औरते और अमीन गांव के आदमी मिलकर हाथों मे डण्डे, बिण्डे लेकर आये और उसके, बहन और चाची के साथ मारपीट की। उसकी मोटरसाइकिल को घर से बाहर ले जाकर उसमे आग लगा दी । घर के अन्दर घुस कर तोड फोड की और सारा सामान तोड दिया। उसकी चाची के कानो की सोने की बाली छिन ली और उसकी चाची व बहन के साथ गलत हरकत थी। जब उसने शोर मचाया तो लोग इक्कठे होते देख वो मौके से भाग गये और जाते जाते कहने लगे हमारी बहन को वापिस कर दो नही तो हम तुम्हे जाने से मार देगेे। जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच आरम्भ कर दी थी। जांच के दौरान थाना केयुके के एएसआई कृष्ण कुमार ने गुप्त सूचना के आधार पर मनोज उर्फ मोनू वासी फतुहपुर कालोनी कुरूक्षेत्र को खेडी राम नगर रोड कुरूक्षेत्र से काबू करके गिरफतार कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here