लूट का षडय़ंत्र रचते बदमाश अवैध हथियारों सहित गिरफ्तार, एक दर्जन और चोरी की घटनाओं खुलासा

0
अमन अटकान, सोनीपत। जिले की शस्त्र निरोधक टीम ने राहगीरों से लूट का षडय़ंत्र रचते शातिर बदमाशों को अवैध हथियारों सहित गिरफ्तार किया है। आरोपी वकील उर्फ गुल्लू पुत्र अफलातून निवासी थरया जिला सोनीपत, गुलफाम पुत्र उमरदीन निवासी बरवाला जिला बागपत हाल विजय नगर बड़ौत, असलम उर्फ कालू पुत्र यामीन निवासी सुनहेठी जिला शामली व इस्लाम उर्फ काला पुत्र यामीन निवासी अकबरपुर सुनहेठी जिला शामली यूपी के रहने वाले है। आरोपियों से विश्लेषणात्मक पूछताछ करने पर करीब आधा दर्ज चोरी की घटनाओं का खुलासा हुआ। पुलिस प्रवक्ता जगजीत सिंह ने बताया कि शस्त्र निरोधक टीम कामी रोड़ की सीमा में मौजूद थी कि इन्हें सूत्रों से पता चला कि कुछ बदमाश अवैध हथियारों सहित, बलैरो गाड़ी व बाईक सहित राहगीरों से लूट का षडय़ंत्र रच रहे है। इस सूचना पर पुलिस टीम द्वारा कार्यवाही करते हुये आरोपियों को धर दबोचा। पूछताछ में इन्होंने अपनी पहचान उपरोक्त के रूप में दी। तलाशी लेने पर इनके कब्जे से तीन अवैध देशी पिस्तौल व 11 जिन्दा कारतूस मिले। आरोपियों के विरूद्ध शस्त्र अधिनियम व भारतीय दण्ड संहिता की धाराओं के अन्तर्गत थाना सदर में मामला दर्ज किया गया। आरोपियों से विश्लेषणात्मक पूछताछ करने पर बताया कि करीब आधा दर्ज चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया था। आरोपी इस्लाम उर्फ काला ने बताया कि लगभग 6/7 महीनों के दौरान गांव राजपुर, जाहरी, कामी व जफरपुर गांव के एरिया से टॉवर बैट्री चोरी करने की घटनाओं को भी अंजाम दिया था।  आरोपी इस्लाम उर्फ काला पहले भी जिला पानीपत व करनाल में लगभग 15 घटनाएं भैंस व बैट्री चोरी करने की घटनाओं को अंजाम दिया था।  आरोपियों को न्यायालय में पेशकर न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत जेल भेज दिया गया है।
Previous articleरिंग सेरेमनी पर भी नहीं पहुंचा इनेलो का बिछड़ा कुनबा
Next articleधोखाधड़ी की घटना में शामिल आरोपी गिरफ्तार
न्यूज पोर्टल की श्रृखला में एक नया नाम सोनीपत 24 न्यूज पोर्टल और जुड़ गया। आप सोच रहे होंगे इसमें कौनसी बड़ी बात है। आखिर हर रोज तो न्यूज पोर्टल बनते रहते हैं। यह सच है कि आज के युग में जो न्यूज पोर्टल बनते हैं। अधिकांश निष्पक्ष और पारदर्शी पत्रकारिता का दावा करते हैं, परंतु जब हम उन्हें देेखते हैं तो हमारी उपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरते हैं और हमें निराशा ही हाथ लगती है, हम पाते हैं कि न्यूज पोटर्ल में खबर ही नहीं। किसी ने राजनीतिक पार्टी में, किसी ने सत्ताधारी पार्टी की हां में हां करके पत्रकारिता के मूल स्वरुप को दूर ले जाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here