विपक्ष ना होने पर सत्ताधारी ही निभाते हैं विपक्ष की भूमिका : डां डीपी वत्स

0
राजेश सलूजा, उकलाना । भारतीय जनता पार्टी का पन्ना प्रमुख व भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक व सम्मेलन का आयोजन किया। जिसमें सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता पहुंचे हुए थे। मुख्य अतिथि के रूप में राज्यसभा सांसद डॉ डीपी वत्स पहुंचे। उन्होंने कहा कि विपक्ष का जनाधार नहीं बचा है। पहले 75 पार का नारा दिया था मेरा मानना तो यह है कि अबकी बार आर पार नहीं कोई और ।जहा विपक्ष में अफरा-तफरी मची हुई है । विपक्षी दलों के नेता खुद की पार्टी में जहां पदों की लालसा रख रही हैं। दूसरी ओर पार्टी में शामिल होने के लिए आवेदन दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि फौज में जहां डंडे की काम लिया जाता था वही पार्टी मे  कार्यकर्ता स्वयं खुशी-खुशी पार्टी में काम कर रहे हैं। डॉक्टर वत्स ने कहा कि आज ठेकेदारी प्रथा समाप्त हो चुकी है जिस कारण रोहतक की सीट भी  जनता ने भारतीय जनता पार्टी की झोली में डालने का काम किया। शासन व प्रशासन में जो सालों से मैल जमी है।उस मैल को निकालने में कुछ समय जरूर लगेगा। इसलिए एक मौका फिर से मनोहर को देना हम सबका दायित्व है।  हर कार्यकर्ता सक्रिय कार्यकर्ता  की भूमिका में तभी होगा जब वह 25 कार्यकर्ताओं को अपने साथ जोड़ेगा। डॉ वत्स ने कहा कि जब और सत्ता व विपक्ष की भूमिका समाप्त हो जाती है तो सत्ताधारी ही इंटरनल विपक्ष की भूमिका अदा करते हैं और जो भी कानून होते हैं उसमें बदलाव लाने का काम करते हैं। वहीं उन्होंने राजीव गांधी मेडिकल काउंसिल एक्ट में बदलाव पर बोलते हुए कहा कि उस वक्त भी राजीव गांधी की सरकार सत्ता में थे और विपक्ष नाम की कोई चीज नहीं थी। तब भी मेडिकल काउंसिल का बदला गया था। धारा 370 पर बोलते हुए कहा धारा 370 एक घीसा कानून बन कर रह गया। उसमें भी बदलाव की जरूरत है । राज्यसभा में पूर्ण बहुमत ना होने का है यह कानून अटका हुआ है बहुमत  पूर्ण होने पर कानून बदला जाएगा। उसने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी भी कांग्रेसी होते थे और धारा 370 उनको  पसंद नहीं थी और उन्होंने अपना बलिदान दे दिया। भीड़ पर पूछे जाने के बारे  उन्होंने कहा कि उनका वोट साइलेंट है विकास व ईमानदार व्यक्ति के नाम वोट जनता देने का काम कर रही है। पूर्व में दुष्यंत चौटाला व कुलदीप बिश्नोई राजस्थान में पूरे हरियाणा की भीड़ इकट्ठा करके ताकत दिखाने का काम करते रहे हैं। जबकि उनके पास वोट नाम की चीज नहीं रही। भारतीय जनता पार्टी का वोट साइलेंट है और अपना काम कर देता और इमानदारी से उसी का परिणाम है। कि आज बदली भर्ती की परिभाषा बदल चुकी है। अब सरकार में घोटाले नहीं ,पहले की सरकारों में कोई ना कोई नया  घोटाला प्रतिदिन उजागर होता रहता था। इसके अतिरिक्त पर डीपी वत्स ने स्कूल में पौधारोपण भी किया। कहा पेड़ लगाकर इनकी देखभाल भी  जरूरी है तभी हमारा पर्यावरण भी शुद्ध रह पाएगा। हरियाणा वेयर हाउसिंग कारपोरेशन के चेयरमैन श्रीनिवास गोयल ने कहा कि हर कार्यकर्ता 25 कार्यकर्ताओं को जोड़ें तभी वह सक्रिय कार्यकर्ता होगा । प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री चाहे कोई भी मंच पर वह सब को सक्रिय कार्यकर्ता बने रहने के लिए  जरूरी है। गोयल ने कहा कि मुख्यमंत्री की दूरदर्शिता का परिणाम है कि हर विधानसभा क्षेत्र में ईमानदारी विकास कार्य करवाएं तभी आज लोकसभा जीत का परचम 10 की 10 सीटों पर रहा।  इसके अतिरिक्त शमशेर गिल, सीमा गैबीपुर, आशा खेदड़,रामफल नैन ,सत्यपाल शर्मा आदि नेताओं ने बैठक में अपना संबोधन दिया। इस मौके पर शमशेर गिल,डॉ करतार सिंह कांगड़ा ,रणधीर वर्मा ,निहाल सिंह बरड, सुरजीत ख्यालिया, जयवीर सिंह, सुशील रेड्डू, विजयपाल बेदी, वजीर साहू ,सुभाष मावलिया ,सुखा साहू, सुमित भ्याना, नरेश नैन, जयवीर बिढासरा, नीरज इलाहाबादी,जसवीर श्योराण ,अजय श्योराण, सतवीर नंबरदार लितानी ,मदन ताकत, सुरेश तायल ,राजेंद्र नगर , वासुदेव शर्मा, सुरेंद्र गोयल,कीर्ति रतन शर्मा, मीना शर्मा , राममिलन शर्मा, सीताराम वर्मा, सोहिम नैन, अमर पातड, कमल सेन, कृष्ण, चंद्रप्रकाश बोस्ती,पवन कुमार, प्रवीण गिल, उषा अनेजा,राधा कपूर, पूनम मेहता सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here