जमकर हुई बरसात से किसानों के चेहरे खिले

जमकर हुई बरसात से किसानों के चेहरे खिले

छमाछम बारिश से मेरठ में आफत तो सोनीपत में किसानों के चेहरे खिले 

मेरठ, सोनीपत, मुकेश ठाकुर, श्याम वशिष्ठ। दो दिन से हो रही बारिश ने लोगों को गर्मी से राहत मिली। बुधवार को मंगलवार और बुधवार हो जमकर हुई बारिश ने आमजन के साथ-साथ किसानों के चेहरे पर भी रौनक ला दी, क्योंकि पिछले कुछ दिनों से भंयकर गर्मी होने से आमजन काफी परेशान था। सोनीपत शहर में किसी भी समय बिजली का कट लग जाने से बच्चे और बुजुर्गो के  लिए गर्मी में बुरा हाल हो जाता था। मेरठ में ठंडी हवाओं ओर बारिश के चलते मौसम ने करवट बदली। लोगो को मिली गर्मी से राहत। तेज बारिश के चलते नालिया उफान पर हैं और सड़कें तालाब में तब्दील हो गई हैं।

मेरठ में हुई मूसलाधार बारिश से सड़कों और गलियों में कई-कई फिट पानी जमा हो गया, जहां एक तरफ नगर निगम मानसून को लेकर बड़ी-बड़ी बातें कर रहा था। वहीं मूसलाधार बारिश ने नगर निगम के तमाम दावों पर सवालिया निशान खड़े कर दिए हैं। मेरठ की मेयर सुनीता वर्मा लगातार अपनी नगर निगम की टीम के कार्यों के फुल बांधती नहीं थकती। वही लोगों का कहना है कि नगर निगम ने ना तो नालों की सफाई कराई और ना ही कहीं भी पानी की निकासी की व्यवस्था कराई, जिसमें तमाम दावे फेल होते दिख रहे हैं। लंबे समय से बरसात का इंतजार कर रही लोगों पर इंद्र देवता की जमकर मेहरबानी हो रही है। पिछले 2 दिन से लगातार झमाझम हो रही बरसात में एक तरफ जहां गर्मी की उमस से राहत दी है तो वहीं प्रदेश के किसानों के लिए बारिश संजीवनी बनकर आई है।

बरसात होने से किसानों के चेहरे खिल उठे हैं। इस समय धान का सीजन है, ऐसे में बरसात होने से धान की बुआई में तेजी आएगी। हालांकि काफी किसानों ने धान की बुआई कर ली है। किसानों का कहना है कि इस वर्षा से धान, मकई की फसल के साथ दूसरी फसलों को फायदा होगा, क्योंकि खेतों में पानी की कमी को यह बरसात पूरी करेगी और किसानों को पानी के लिए डीजल पर खर्च नहीं करना पड़ेगा। बहराल लगातार हो रही झमाझम बरसात से लोगों ने गर्मी से राहत पाई है तो महंगाई के इस दौर में डीजल से खेतों को सींच रहे किसानों के लिए भी बारिश की बूंदे राहत की बूंदे बनकर आई है। मौसम विभाग की मानें तो आगे भी बरसात इसी तरह से जारी रहने की संभावना जताई गई है।

देश हरियाणा हेल्थ