दस उच्चतम सूचीबद्ध चोटियों में से किसी एक पर चढ़ाई करने पर मिलेंगे पांच लाख रुपये

दस उच्चतम सूचीबद्ध चोटियों में से किसी एक पर चढ़ाई करने पर मिलेंगे पांच लाख रुपये

-हरियाणा सरकार की खेल ग्रेडेशन पॉलिसी के तहत मिलेगा सी-ग्रेड सर्टिफिकेट
-किसी भी पर्वतारोही को एक चोटी पर कई बार चढऩे की दशा में एक ही बार मिलेगा नकद पुरस्कार

श्याम वशिष्ठ, सोनीपत। उपायुक्त ललित सिवाच ने कहा कि विश्व की दस उच्चतम/कठिन चोटियों में से किसी एक पर सफलतापूर्वक चढ़ाई करने पर पर्वतारोहियों को हरियाणा सरकार की ओर से पांच लाख रुपये के नकद पुरस्कार से सुशोभित किया जाएगा। साथ ही प्रदेश सरकार की खेल  ग्रेडेशन पॉलिसी अनुसार सी-ग्रेड सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जाएगा। उपायुक्त सिवाच ने कहा कि पर्वतारोहियों को प्रोत्साहित करने के लिए हरियाणा सरकार की बेहतरीन नीति है। इसका लाभ पर्वतारोहियों को  उठाना चाहिए। हरियाणा सरकार ने अधिसूचना जारी कर विश्व की दस चोटियों की सूची जारी की है।

इनमें 29028 फुट ऊंचाई वाली माऊंट एवरेस्ट सबसे ऊंची चोटी है। इसके साथ-साथ सूची में शामिल अन्य चोटियों में माऊंट के-2 (28250 फुट), माऊंट कंचनजंगा (28208 फुट), माऊंट लोहत्से (27890 फुट), माऊंट मकाल (27790 फुट), माऊंट धौलागिरी (26810 फुट), माऊंट नंगा पर्वत (25447 फुट), माऊंट अन्नपूर्णा-1 (25447 फुट) तथा माऊंट कामेट (पश्चिम मुख/रिज- 25447 फुट) और माऊंट नंदादेवी पूर्व (24389 फुट) चोटियां सम्मिलित है। उपायुक्त ने कहा कि पर्वतारोहण एक जांबाज खेल है, जिसे विशेष रूप से बढ़ावा दिया जा रहा है। पर्वतारोहियों को निश्चित रूप से प्रोत्साहन मिलेगा। इस दौरान जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी ज्योति रानी ने बताया कि किसी भी पर्वतारोही को एक चोटी पर कई बार चढऩे की दशा में उसे केवल एक ही बार नकद पुरस्कार और स्पोर्टस ग्रेडेशन सर्टिफिकेट दिया जायेगा।

खेल देश हरियाणा