सरकार असंगठित कर्मकारों को देगी 5 हजार रुपए की आर्थिक सहायता

सरकार असंगठित कर्मकारों को देगी 5 हजार रुपए की आर्थिक सहायता

आर्थिक राहत के लिए परिवार पहचान पत्र तथा असंगठित श्रमिक पोर्टल पर पंजीकरण होना अनिवार्य

सोनीपत। उपायुक्त ललित सिवाच ने कहा कि सरकार द्वारा कोविड की दूसरी लहर से प्रभावित मजदूरों एवं असंगठित कर्मकारों को आर्थिक राहत देने हेतु प्रभावी घोषणाएं की गई है। सरकार इनके कल्याण व उत्थान के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। उपायुक्त ने कहा कि सरकार ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान असंगठित कर्मकारों को आर्थिक राहत दी है। निर्माण मजदूर, असंगठित कर्मकार, ऑटो रिक्शा चालक, रिक्शा चालक, कम वेतन वाले कर्मकार व रेहड़ी/फड़ी वाले इत्यादि को 5 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है।

इसके लिए परिवार पहचान पत्र का होना और असंगठित श्रमिक पोर्टल पर पंजीकरण करवाना लाभार्थियों के लिए अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि इसके लिए ऑनलाइन पंजीकरण 18 जून से शुरू कर दिए गए है। लाभार्थी ऑनलाइन पोर्टल पर पंजीकरण करवा सकते हैं। सिवाच ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा गरीब एवं जरूरतमंद लोगों के कल्याणार्थ विभिन्न योजनाएं एवं कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। पात्र व्यक्ति योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए संबंधित विभागों के कार्यालयों से संपर्क स्थापित कर सकते हैं।

देश