सरसों की बोरियों की हेराफरी में शामिल तीन निलम्बित  

सरसों की बोरियों की हेराफरी में शामिल तीन निलम्बित  

हरियाणा राज्य भाण्डागार निगम के कलानौर स्थित एक गोदाम से सरसों की 6512 बोरियां गायब

राजेश सलूजा, चंडीगढ़। हरियाणा राज्य भाण्डागार निगम के कलानौर स्थित एक गोदाम में जांच के दौरान सरसों की 6512 बोरियां गायब होने का मामला सामने आया है जिनकी कुल कीमत 1.62 करोड़ रुपये है। हरियाणा राज्य भाण्डागार निगम के एक प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि जांच के आधार पर प्रबंध निदेशक द्वारा सख्त निर्णय लेते हुए सरसों की बोरियों की हेराफरी में संलिप्त जिला प्रबंधक जे.एस.नारा, प्रबंधक राजेश दिसोदिया और गोदाम कीपर राजेश ग्रेवाल को निलम्बित कर दिया गया है। इसके अतिरिक्त, गोदाम कीपर राजेश ग्रेवाल एवं एसआईएस सिक्योरिटी ऐजेंसी के खिलाफ कलानौर पुलिस स्टेशन में एक प्राथमिकी भी दर्ज की गई है।

यहां यह उल्लेखनीय है कि स्टॉक के इस दुरूपयोग में शामिल अधिकारियों एवं कर्मचारियों की सटीक भूमिका का पता लगाने के लिए निगम के प्रबंध निदेशक अशोक कुमार शर्मा द्वारा एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया गया था, ताकि स्टॉक की इस हेराफेरी में शामिल लोगों और चूकों को इंगित किया जा सके। समिति ने गोदाम की जांच के उपरांत अपनी रिपोर्ट सौंपी जिसमें उसने गोदाम से सरसों की 6000 से भी अधिक बोरियों के गायब होने की रिपोर्ट दी। उन्होंने बताया कि निगम के मुख्य सतर्कता अधिकारी को मामले की आगे की जांच के सख्त आदेश दिए गए हैं। सरसों की बोरियों की हेराफरी में संलिप्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों की लापरवाही के लिए उनके विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी।

क्राइम हरियाणा