शहीदों के बलिदान के लिए कार्य कर रहा है शहीद सेवादल : सावन सिंह

शहीदों के बलिदान के लिए कार्य कर रहा है शहीद सेवादल : सावन सिंह

शहीदों की याद में स्कूल, रोड, और पार्क का नामकरण करवाने का भी लक्ष्य है : शहीद सेवादल 

रणबीर सिंह, सोनीपत। शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले l वतन पर मिटने वालों का यही बाकी निशा होगा।। इन्हीं दो लाइनों को चरितार्थ करने पर लगे हुए हैं शहीद सेवादल के अध्यक्ष कथूरा निवासी सावन सिंह रोहिल्ला राजपूत सावन सिंह ने कहा कि जिस दिन कोई सैनिक शहीद होता है तो उस दिन परिवार को सांत्वना देने राजनेता, बड़े उद्योगपति,  सामाजिक, गैर सामाजिक संस्थाओं के लोग पहुंचते हैँ, सांत्वना देने के बाद शहीद के परिवार को भूला दिया जाता है।

ये एक बहुत बडी विडंबना है। उन्होंने ये भी कहा कि सरकार, प्रशासन व हम सभी का दायित्व बनता है कि शहीद के परिवार को आर्थिक सहायता, परिवार के किसी एक को सरकारी नौकरी और शहीद के नाम पर स्कूल, रोड, पार्क या कोई ऐसा कार्य करना चाहिए, जिससे शहीद की यादगार हमेशा के लिए बनी रहे। शहीद सेवादल के अध्यक्ष सावन सिंह रोहिल्ला राजपूत ने कहा कि सैनिक बोर्ड द्वारा उपलब्ध कराई गई लिस्ट के अनुसार ही हम शहीदो के  परिवारों से संपर्क करते हैं। कई बार सैनिक बोर्ड से शहीद के परिवार का पूरा रिकार्ड, और मोबाइल नम्बर नहीं मिल पाता, जिसकी वजह से संपर्क नहीं हो पाता। सोनीपत में 1947 से लेकर अब तक जो हमारे पास जानकारी हैं उसके अनुसार हरियाणा के अलग अलग जिलों के 1850 सैनिक शहीद हुए हैं। पानीपत में 37, करनाल में 31, कुरुक्षेत्र में 33 ये आंकड़े हमारे पास उपलब्ध हैं।

आंकड़ों को पुख्ता करने के लिए हमारी संस्था शहीद परिवारों से संपर्क करती हैं, ताकि उन सभी सैनिकों का बलिदान दिवस मनाया जा सके जिन्होंने देश के लिए अपने प्राणों की आहुति दी। शहीद सेवादल की पूरी टीम हरियाणा में काम कर रही है और आगे भी करती रहेगी। शहीद सेवादल के अध्यक्ष सावन सिंह ने बताया कि उनका हैड आफिस जींद में है। उन्होंने इस कार्य की शुरूआत जींद से ही की थी, अब जींद में उनका पूरा मिशन पूरा हो चुका है। जींद में तीनों सेनाओं के अब तक 62 शहीद है। उनमें से मात्र 17 के नाम पर ही यादगार बने हुए हैं, बाकी के नाम पर अभी तक कुछ नहीं बना हुआ है, उनका सेवादल ग्राम पंचायतों के पास जाकर उनसे शहीदों के नाम पर यादगार बनाने की गुहार लगाता है। जिसके सार्थक परिणाम सामने आने लगे है।

सरकार और प्रशासन से मांग करते हैं कि प्रदेश में जितने भी शहीद हुए उन सभी के नाम पर कुछ न कुछ यादगार बननी चाहिए। उल्लेखनीय है कि शहीद सेवादल के बेहतर व देश व सर्वसमाज हित के कार्यों को देखते हुए विश्व रोहिला राजपूत संघ ने जींद के ब्लू स्टार होटल में आयोजित एक सभा में शहीद सेवादल के अध्यक्ष कथूरा निवासी सावन सिंह रोहिल्ला राजपूत को फूलमाला व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।

देश