श्याम प्रसाद मुखर्जी ने देश की एकता और अखंडता को कायम रखा : जैन

श्याम प्रसाद मुखर्जी ने देश की एकता और अखंडता को कायम रखा : जैन

भाजपाईयों ने मुखर्जी को श्रद्धा सुमन अर्पित किए

रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत। कश्मीर से धारा 370 हटवाकर भारत का अभिन्न अंग बनाने का सपना जनसंघ के संस्थापक अध्यक्ष स्वर्गीय श्याम प्रसाद मुखर्जी ने संजोकर अपने जीवन का बलिदान कर दिया और उनके इस बलिदान को सार्थक किया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने। उकत विचार पूर्व मंत्री एवं प्रदेश उपाध्यक्ष कविता जैन ने नेताजी सुभाष मंडल द्वारा सिक्का कालोनी स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में श्यामा प्रसाद मुखर्जी को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए कहा कि भारतीय राजनीति के शिखर पुरुष और भारतीय संस्कृति के वाहक बनकर देश की एकता और अखंडता को कायम रखा। उन्होंने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी अपने बहुमूल्य जीवन का बलिदान न करते तो आज कश्मीर भारत का नहीं बल्कि पाकिस्तान का हिस्सा होता।

वहीं राई विधानसभा वरिष्ठ भाजपा नेता नरेश रोहिल्ला ने पार्टी पदाधिकारियों के साथ श्याम प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर पुष्प अर्पित किए। गन्नौर विधानसभा के राजपुर मंडल द्वारा गांव जाहरी में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश मीडिया संपर्क प्रमुख राजीव जैन ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान के कारण कश्मीर के लोग देश की मुख्यधारा से जुड़े और वहां विकास के नये आयाम स्थापित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने धारा 370 हटा कर उन ताकतों को मुंहतोड़ जवाब दिया जो यह दुष्प्रचार करती थी की धारा 370 हटी जो कश्मीर में खून की नदियां बह जायेगी परंतु वहां चींटी ने भी चूं नहीं की। उनके बलिदान से एक ऐसा व्यक्तित्व चला गया जो भारतीय राजनीति को नई दिशा दे सकता था।

राजनीति हरियाणा