कोरोना काल में स्वास्थ्य कर्मियों के हौंसले को सलाम : मीना देवी

कोरोना काल में स्वास्थ्य कर्मियों के हौंसले को सलाम : मीना देवी

कोरोना काल में गांव की जनता की सेवा करने के उपलक्ष्य में मनाया सम्मान समारोह

सांपला, महेश कौशिक। कोरोना वायरस के डर से जब लोग घरों से निकलने की हिम्मत नहीं जुटा पाते, तब ये जांबाज बिना भय के संदिग्धों और मरीजों की सेवा करने में जुटे रहे। ऐसे देश के इन जाबांजों को देश की जनता सलाम कर रही हैं। इनमें डॉक्टर, सफाई कर्मचारी और पुलिस के जवान सबसे आगे हैं। कोरोना वायरस से निपटने में इनमें से किसी की भी भूमिका को कमतर नहीं आंका जा सकता। जिंदगियां बचाने के लिए ये जांबाज दिनरात काम पर लगे हुए हैं। कई बार ऐसी भी स्थिति आ जाती है जब ये जांबाज संक्रमित के सीधे संपर्क में आ जाते हैं। इसके बावजूद उनका न तो हौंसला डिगा है और न ही बेहतर करने में कोई कमी आई है।

ये सेना के जवानों की तरह सलामी के हकदार हैं। यह बात आज सांपला खंड के गांव भैसरू कलां में कोरोना अखिल भारतीय विकास परिषद सांपला शाखा द्वारा लगवाये गये वैक्सीन कैंप के दौरान आयोजित हुए स्वास्थ्य कर्मियों के सम्मान आयोजन में कही। उन्होंनेे कहा कि गांव के जितने भी स्वास्थ्य कर्मियों के साथ अन्य लोगों ने जनसेवा का बहुत अच्छा कार्य किया। उसके लिए समस्त गांव उनका आभार है। कोविड केयर सैंटर संचालक डाक्टर धर्मेंद्र, विशाल चैधरी, नरेंद्र औलहाण आदि ने बताया कि सामन्य स्थितियों की बात अलग होती है, लेकिन यह स्वास्थ्य कर्मियों के लिए यह इम्तिहान की घड़ी चल रही है। उनका कहना है कि  मरीजों की देखभाल में उनको भी भय रहता है कि संक्रमण न फैले, लेकिन अपनी सुरक्षा के साथ साथ यही उनकी ड्यूटी है। वह पीछे नहीं हट सकते। यह तो इम्तिहान की घड़ी है। कई बार उनके पास साधन भी सीमित रहे है।

कई बार ऐसा होता है कि जांच करते-करते खुद में भी इंफेक्शन हो जाता है। पैरामेडिकल और नर्सिंग स्टाफ के साथ भी ऐसा ही होता । यह स्टाफ भी सीधे संदिग्धों व मरीजों के संपर्क में होते हैं। उनके इस सम्मान समारोह में गांव की सरंपच ने सभी स्वास्थ्य कर्मियों को शाल भेंटकर सम्मानित किया। उन्होंनें बताया कि गांव के सभी स्वास्थ्य कर्मियों ने उनकी आशा से बढ़कर इस महामारी में सहयोग दिया है। गांव की सरंपच मीना देवी ने जिला प्रशासन से मांग की है वो भी इन कोरोना योद्वाओं को सम्मानित करने का कार्य करे। इस अवसर उनके साथ समाजसेवी सुशील कौशिक, अभिनंदन भारद्वाज, अशोक कौशिक, मास्टर सुरजभान, चांदराम, वेदराम कौशिक, रामअवतार नंबरदार, समाज सेवी जितेंद्र ठेकेदार, श्रवण बंसल, आशीष कौशिक,निरंजन सिंह राठौर, प्रशांत कौशिक सहित स्वास्थ्य कर्मी व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

राजनीति हरियाणा हेल्थ