मिल्खा सिंह सदियों तक खिलाड़ियों के प्रेरणा स्रोत बने रहेंगे

मिल्खा सिंह सदियों तक खिलाड़ियों के प्रेरणा स्रोत बने रहेंगे

‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह ने पीजीआई चंडीगढ में ली अंतिम सांस

राजेश सलूजा, चंडीगढ़। देश के महान धावक मिल्खा सिंह के निधन पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गहरा शोक व्यक्त किया है। मिल्खा सिंह 91 साल के थे और लगभग एक महीने तक कोरोना संक्रमण से जूझने के बाद कल रात चंडीगढ़ के पीजीआई में उन्होंने अंतिम सांस ली। शोक संदेश में ‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह के निधन पर शोक जताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत ने एक सितारा खो दिया है। वे हर भारतीय को देश के लिए चमकने के लिए सदैव प्रेरित करते रहेंगे। ‘फ्लाइंग सिख’ हमेशा भारतवासियों के दिलों में जीवित रहेंगे। उन्होंने शोक संतप्त परिवार के सदस्यों के प्रति अपनी हार्दिक सहानुभूति व्यक्त करते हुए ईश्वर से प्रार्थना की कि दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दें और परिजनों को इस अपार दु:ख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने जाने-माने धावक मिल्खा सिंह के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। आज उन्होंने ट्वीट कर बताया कि ‘खेल जगत के लाइट हाउस फ्लाईंग सिख मिल्खा सिंह नहीं रहे। देश को अभूतपूर्व क्षति हुई है। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं’। विज ने मिल्खा सिंह के निधन पर शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना भी की।

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने ‘उड़न सिख’ मिल्खा सिंह के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त करते हुए उनको अपनी ओर से श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्होंने मिल्खा सिंह को खेल की दुनिया का महानायक बताते हुए कहा कि स्वर्गीय सिंह सदियों तक खिलाड़ियों के प्रेरणा स्रोत बने रहेंगे। मिल्खा सिंह का कठिन परिश्रम देश की युवा पीढ़ी को जुझारू और लक्ष्य को हासिल करने के लिए हमेशा उत्साहित व प्रेरित करता रहेगा। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि उड़न सिख के निधन से खेल की दुनिया को अपूर्णीय क्षति हुई है, जिसकी पूर्ति नही हो सकती। ऐसे में देश का हर युवा व खिलाड़ी मिट्टी को छू कर उनको नमन करता है। उन्होंने महान धावक मिल्खा सिंह को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शोक संतप्त परिवार के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त की है।

धर्म-कर्म हरियाणा