11 जून को घोषित होगा 10वीं का परिणाम, 12वीं जल्द होगा घोषित : शिक्षा मंत्री

0

रणबीर रोहिल्ला,  चण्डीगढ़। हरियाणा के शिक्षा तथा वन मंत्री  कंवरपाल ने कहा कि हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड, भिवानी की दसवीं कक्षा का परिणाम 11 जून को घोषित कर दिया जाएगा। इसके अलावा, 12वीं का परिणाम भी जल्द घोषित किया जाएगा।आज यहां मीडियाकर्मियों से बात करते हुए  कंवरपाल ने कहा कि कोविड-19 के चलते पैदा हुए मौजूदा हालात में स्कूल खोलना जल्दबाजी होगी क्योंकि अभी न तो बच्चे स्कूल आने के लिए तैयार हैं और न ही उनके अभिभावक स्कूल भेजने के लिए। उन्होंने कहा कि हालात सामान्य होने पर निश्चित तौर पर इसके बारे में विचार किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि मोरनी क्षेत्र में पर्यटन के साथ-साथ साहसिक गतिविधियों की भी अपार संभावनाएं हैं और इसके लिए लम्बे समय से प्रयास किए जा रहे हैं। पैरा-ग्लाइडिंग शुरू करने पर विचार किया जा रहा है जबकि हॉट एयर बैलून के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय से अनुमति लेने के आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि हमारे पास साइकिल ट्रैकिंग व पैदल ट्रैकिंग के लिए पर्याप्त जगह है और यहां एक-दो दिन से लेकर एक सप्ताह तक की जा सकती है। उन्होंने कहा कि पहाड़ी क्षेत्र में पैदा होने वाले अनाज को लेकर लोगों में काफी क्रेज होता है। इसलिए यहां आर्गेनिक खेती शुरू करने पर भी विचार किया जा रहा है।

वन एवं पर्यटन मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार चाहती है कि इस क्षेत्र की प्राकृतिक सुदंरता का लाभ यहां के मूल निवासियों को अवश्य हो। इसके लिए होम स्टे व फार्म स्टे पॉलिसी लाने पर विचार किया जा रहा है ताकि यहां के लोग, खासकर छोटे किसान एक-दो कमरा बनाकर पर्यटकों को रख सकें। इसके जहां किसानों को लाभ होगा वहीं पर्यटकों को भी ठहरने के लिए सस्ता विकल्प मिल सकेगा।

इसके लिए इच्छुक लोगों को सरकार की तरफ से 8-10 लाख रुपये तक का ब्याज-मुक्त या सस्ता ऋण भी मुहैया करवाने पर विचार किया जा रहा है।कंवरपाल ने कहा कि पैसे वाला व्यक्ति तो कहीं भी बिजनेस कर सकता है लेकिन होम स्टे पॉलिसी लाने का उद्देश्य आम आदमी का जीवन-स्तर ऊपर उठाना है। इस नीति के आने से आमजन खुद बिजनेसमैन की तरह काम कर सकेगा। उसके सेवाभाव की बदौलत उसका कारोबार बढ़ेगा क्योंकि उसके यहां ठहरने वाला पर्यटक दूसरे लोगों को भी बताएगा। उन्होंने स्पष्टï किया कि इन सब गतिविधियों को बढ़ावा देते समय इस बात का खास ख्याल रखा जाएगा कि यहां के प्राकृतिक सौंदर्य को किसी प्रकार का नुकसान न हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here