कंसंट्रेटर बैंक से 62 मरीज उठा चुके लाभ : जैन

0
जरूरतमंद को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर देते भाजपा नेता राजीव जैन।
जरूरतमंद को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर देते भाजपा नेता राजीव जैन।

होम आइसोलेट तथा अस्पताल में ऑक्सीजन बैड की कमी को पूरा कर रहा कंसंट्रेटर बैंक

रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान एकाएक संक्रमित लोगों की संख्या में अप्रत्याशित वृद्धि से होम आइसोलेट तथा अस्पताल में ऑक्सीजन बैड की कमी की सूचनाओं के आधार पर राजनीतिक जिम्मेदारियों के मध्य मुख्यमंत्री के पूर्व मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने सामाजिक फर्ज निभाते हुए शहर में समाजसेवियों के साथ मिलकर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक शुरू किया, जिसके माध्यम से आजतक 62 जरूरतमंदों अपनी जरूरत के हिसाब से इस व्यवस्था का लाभ उठाकर ठीक हो चुके हैं।

वर्तमान में सोनीपत जिला में कोरोना संक्रमित होने वालों की संख्या में आई गिरावट से आमजन ने राहत की सांस ली है। लेकिन मई माह के पहले सप्ताह में स्थितियां आज से बहुत अलग थी और गुणात्मक बढ़ रहे मरीजों के लिए ऑक्सीजन की मांग में एकाएक आए उछाल ने व्यवस्था को हिला दिया था। आए दिन आक्सीजन सिलेंडर को लेकर मारामारी तथा सरकारी-निजी अस्पतालों में आक्सीजन बैड की जरूरत मांग से कहीं ज्यादा पहुंच चुकी थी। इसी बीच कोरोना संक्रमण से पूर्व महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन तथा मुख्यमंत्री के पूर्व मीडिया सलाहकार राजीव जैन दोनों बच्चों संग दो-दो हाथ कर चुके थे। भाजपा नेता राजीव जैन ने अपने सामाजिक दायित्व को जमीनी स्तर पर निभाने के लिए एक मुहिम शुरू करने का निर्णय लिया। ऑक्सीजन की मांग को ध्यान में रखते हुए उनके मन में ऑक्सीजन सिलेंडर के विकल्प के तौर पर कंसंट्रेटर बैंक बनाने का ख्याल मन में आया। इस योजना को 13 मई को अमलीजामा पहनाया। सेक्टर 15 स्थित अपने आवास पर महाराजा अग्रसेन ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक स्थापित किया गया। 20 कंसंट्रेटर के साथ शुरू हुए इस ऑक्सीजन बैंक में आज 42 कंसंट्रेटर उपलब्ध हैं। जिन मरीजों का ऑक्सीजन लेवल 85 के करीब है और उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल रही है, उन्हें भी कन्संट्रेटर उपलब्ध करवाया जा रहा है।

राजीव जैन ने कहा कि कंसंट्रेटर लेकर गए अखिलेश कुमार निवासी तारा नगर को अस्पताल में बेड नहीं मिल रहा था 4 दिन उन्होंने कंसंट्रेटर से काम चलाया फिर अस्पताल में बेड मिल गया अब वे पूरी तरह से ठीक हो गए। इसी तरह संजय प्रभु नगर निवासी को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई, घर पर एक सप्ताह में कंसंट्रेटर से ऑक्सीजन लेकर स्वस्थ हो गए। 23 सेक्टर निवासी प्रीति एक माह से उठ भी नहीं पा रही थी, परंतु 10 दिन से कंसंट्रेटर की मदद लेकर उनका चलना फिरना शुरु हो गया है। इंदिरा कॉलोनी निवासी शिव कुमार के भाई का गुड़गांव इलाज चल रहा था, ऑक्सीजन लेवल 85 आ गया था और डॉक्टरों ने छुट्टी दे दी, परंतु अब घर में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की मदद से ऑक्सीजन लेवल 90 से ऊपर आ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here