ऑक्सीजन सिलेंडर की होम डिलीवरी पर योजना बनाकर संपूर्ण तरीके से करें कार्य : वी उमाशंकर

0
सोनीपत।  उपायुक्तों व नोडल अफसरों की समीक्षा बैठक के दौरान डीसी व अन्य।
सोनीपत।  उपायुक्तों व नोडल अफसरों की समीक्षा बैठक के दौरान डीसी व अन्य।

-सभी उपायुक्त कोविड मरीजों का हर अस्पताल का डाटा निरन्तर अपडेट करें, -होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों का दी जाएं सभी स्वास्थ्य सेवाएं

रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रधान सचिव  वी. उमाशंकर ने सभी उपायुक्तों को जिले के अस्पतालों में उपचाराधीन कोविड मरीजों का डाटा निरंतर निर्धारित पोर्टल पर अपडेट करने के निर्देश देते हुए कहा कि कोविड मरीजों का डाटा प्रतिदिन पोर्टल पर अपडेट करने से पहले डाटा को पूरी तरह से चैक करें तभी उसको अपडेट करें, ताकि मुख्यालय को इसकी सही जानकारी प्राप्त हो सके।

प्रधान सचिव वी. उमाशंकर बुधवार को वीसी के माध्यम से ऑक्सीजन सिलेंडरों की होम डिलीवरी के संबंध में आयोजित उपायुक्तों और नोडल अफसरों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। सीएम के अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ. अमित अग्रवाल भी उनके साथ मौजूद रहे। उपायुक्तों को संबोधित करते हुए वी. उमाशंकर ने कहा कि कोविड पर नियंत्रण के लिए हमें हर जरूरी व्यवस्था करनी है। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड मरीजों एवं अन्य बीमारियों से ग्रस्त मरीजों को ऑक्सीजन सिलेंडर रीफिल की होम डिलीवरी पर योजना बनाकर संपूर्ण तरीके से कार्य करें। इसके लिए सभी उपायुक्त अपने जिलों में नोडल अधिकारी व टीम गठित करें ताकि किसी भी सूरत में 12 घंटे से ज्यादा समय तक कोई भी डिलीवरी पेंडिंग नहीं रहनी चाहिए। लोगों को जल्द से जल्द सिलेंडर मिलना चाहिए, ताकि किसी प्रकार की कोई दिक्कत न आये। साथ ही ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित करें कि जिस मरीज के लिए सिलेंडर का आवेदन एक बार आ जाये, उसे अगले सिलेंडर की आपूर्ति समय से हो जाये। उन्होंने कहा कि यह भी सुनिश्चित किया जाए कि कोई सिलेंडर आपूर्ति की इस योजना का दुरुपयोग न करे। इसके लिए जिसके पास से आवेदन आया है, उसे फोन करके सुनिश्चित किया जाना बेहद आवश्यक है कि सिलेंडर सही जगह पहुंचा है या नहीं।

प्रधान सचिव ने कहा कि यह समय लोगों को तत्काल सहायता पहुंचाने का है। ऑक्सीजन सिलेंडर की रीफिलिंग में कोई दिक्कत आने पर तत्काल निर्णय लें और मुख्यायल पर इसकी सूचना भी तत्काल दी जाए ताकि समय से उचित और कारगर व्यवस्था हो सके। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों का हेल्थ स्टेटस जानने के लिए मेडिकल ऑफिसर्स को घर-घर भेजा जाए और आवश्यक होने पर गंभीर मरीज को अस्पताल में एडमिट कराएं। उन्होंने बीपीएल परिवारों के कोविड ग्रस्त मरीजों का डाटा भी प्रतिदिन एचआरहील पर अपडेट कराने के निर्देश दिए, ताकि बीपीएल के लिए सरकार द्वारा कोविड काल के लिये घोषित वित्तीय लाभ सम्बन्धित को दिया जा सके।

होम डिलीवरी के लिए रेडक्रास सोसायटी की एक टीम गठित

उपायुक्त श्याम लाल पूनिया ने मुख्यमंत्री के प्रधानसचिव को जानकारी देते हुए बताया कि जिला में होम आइसोलेशन के मरीजों के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर की होम डिलीवरी के लिए रेडक्रास सोसायटी की एक टीम गठित की गई है और इसकी प्रतिदिन मॉनिटरिंग की जा रही है। जिला प्रशासन एक ही उद्देश्य के साथ कार्य कर रहा है कि मरीज को समय अवधि में ही ऑक्सीजन उपलब्ध करवाई जाए, ताकि उसकों किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना न करना पड़े। इसके अलावा होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों की हर लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है और उनकों स्वास्थ्य विभाग द्वारा घर पर सभी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाई जा रही है। इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त अशोक बंसल, जिला परिषद के सीईओ नवदीप, एसडीएम खरखौदा डॉ. अनमोल तथा रेडक्रास सोसायटी की सचिव सरोजबाला उपस्थित रही।

Previous articleलूट की घटना में शामिल आरोपी गिरफ्तार
Next articleरोडवेज की 5 मिनी बसों को बनाया गया एम्बुलैंस
न्यूज पोर्टल की श्रृखला में एक नया नाम सोनीपत 24 न्यूज पोर्टल और जुड़ गया। आप सोच रहे होंगे इसमें कौनसी बड़ी बात है। आखिर हर रोज तो न्यूज पोर्टल बनते रहते हैं। यह सच है कि आज के युग में जो न्यूज पोर्टल बनते हैं। अधिकांश निष्पक्ष और पारदर्शी पत्रकारिता का दावा करते हैं, परंतु जब हम उन्हें देेखते हैं तो हमारी उपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरते हैं और हमें निराशा ही हाथ लगती है, हम पाते हैं कि न्यूज पोटर्ल में खबर ही नहीं। किसी ने राजनीतिक पार्टी में, किसी ने सत्ताधारी पार्टी की हां में हां करके पत्रकारिता के मूल स्वरुप को दूर ले जाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here