50 हजार का ईनामी बदमाश गिरफ्तार

0
सोनीपत। सीआईए 1 स्टाफ द्वारा पकड़ा 50 हजार का ईनामी बदमाश।
सोनीपत। सीआईए 1 स्टाफ द्वारा पकड़ा 50 हजार का ईनामी बदमाश।

आरोपी को न्यायालय में पेशकर तीन दिन के पुलिस रिमाण्ड पर लिया

रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत। सीआईए-1 स्टाफ ने 50 हजार रूपये के ईनामी बदमाश एवं उद्घोषित अपराधी तथा हत्या की घटना में शामिल आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी रवि उर्फ मुनिया निवासी बरोणा जिला सोनीपत का रहने वाला है।

पुलिस अधीक्षक जशनदीप सिंह रंधावा ने बताया कि गत 08 जुलाई 2018 को जोगेन्द्र निवासी बरोणा ने थाना खरखौदा में शिकायत दी थी कि उसके भाई रवि उर्फ लांबा की नवीन उर्फ कन्नू, रवि मुनिया व हरिश उर्फ हिमांशु ने गोली मारकर हत्या कर दी है। सीआईए-1 स्टाफ सोनीपत ने आरोपियों की खोजबीन करते हुए घटना में शामिल आरोपियों देवराज उर्फ दीपक निवासी संत कालोनी खरखौदा, ब्रजेश निवासी बरोणा, पवन उर्फ पोना निवासी बवाना दिल्ली, राहुल उर्फ मूसली निवासी खरखौदा, परमजीत उर्फ छोटा, राजेश उर्फ बंटी निवासी बवाना दिल्ली, नवीन उर्फ कन्नू निवासी माहरा हाल खरखौदा व हरिश उर्फ हिमांशु निवासी खरखौदा को पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया था। आरोपियों से प्रारम्भिक पूछताछ करने पर बताया था कि आपसी रंजिश को लेकर इस घटना को अंजाम दिया था।

आरोपियों के बताये अनुसार घटना में प्रयुक्त अवैध हथियार व बाईक को भी पहले ही बरामद कर लिया गया था। आरोपियों को न्यायालय में पेशकर न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत जेल भेज दिया गया था। बाद में सोनीपत पुलिस द्वारा रवि उर्फ मुनिया पर 50 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया गया था और न्यायालय द्वारा उदघोषित अपराधी भी घोषित किया गया था। सीआईए-1 स्टाफ टीम ने आरोपी की खोजबीन करते हुए घटना में शामिल आरोपी रवि उर्फ मुनिया निवासी बरोणा को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को न्यायालय में पेशकर तीन दिन के पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है।

Previous articleनगरपालिका ने उकलाना में गिराए अवैध निर्माण
Next articleपांच हजार का ईनामी एवं मोस्टवांटेड गिरफ्तार
न्यूज पोर्टल की श्रृखला में एक नया नाम सोनीपत 24 न्यूज पोर्टल और जुड़ गया। आप सोच रहे होंगे इसमें कौनसी बड़ी बात है। आखिर हर रोज तो न्यूज पोर्टल बनते रहते हैं। यह सच है कि आज के युग में जो न्यूज पोर्टल बनते हैं। अधिकांश निष्पक्ष और पारदर्शी पत्रकारिता का दावा करते हैं, परंतु जब हम उन्हें देेखते हैं तो हमारी उपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरते हैं और हमें निराशा ही हाथ लगती है, हम पाते हैं कि न्यूज पोटर्ल में खबर ही नहीं। किसी ने राजनीतिक पार्टी में, किसी ने सत्ताधारी पार्टी की हां में हां करके पत्रकारिता के मूल स्वरुप को दूर ले जाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here