कुलदीप बिश्नोई के ठिकानों पर आईटी की जांच जारी

0
>भजनलाल परिवार पर पहली बार आयकर विभाग की कार्रवाई, भव्य बोले-रेड भाजपा सरकार की बौखलाहट,समर्थकों ने नारेबाजी की, छापेमारी में लाखों के गहने व नगदी जब्त<
अशोक छाबड़ा, हिसार।< हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भजनलाल के बेटे और आदमपुर से कांग्रेस विधायक कुलदीप बिश्नोई के ठिकानों पर आयकर विभाग और सीबीआई के छापेमारी की कार्रवाई दूसरे दिन भी लगातार जारी है।आयकर विभाग की टीमें दिल्ली समेत आदपुर, गुरूग्राम और अन्य ठिकानों पर तो अपनी कार्रवाई लगभग खत्म कर चुकी है, लेकिन हिसार के ठिकानों पर अभी डेरा डालकर बैठी है। छापेमारी के दौरान विभाग की टीमें बिश्नोई के ठिकानों से कुछ दस्तावेज पहले ही अपने कब्जे में ले चुकी है। पुलिस ने उनके सेक्टर 15 स्थित आवास की ओर जाने वाली गली के सामने बैरीकेड्स लगा दिए हैं। वहीं नाके पर पुलिस को भी तैनात किया गया है। ऐसे में लग रहा है कि कार्रवाई लंबी चलने वाली है। वहीं समर्थकों की ज्यादा भीड़ जमा न हो इसके लिए भी पुलिस बल तैनात किया गया है। बुधवार की सुबह जब आयकर विभाग की टीम हिसार पहुंची तो उस दौरान कुलदीप जहां नई दिल्ली स्थित घर पर थे, वहीं उनकी मां हरियाणा स्थित घर पर। जैसे ही बिश्नोई परिवार के घर आयकर विभाग की कार्रवाई का पता चला तो कार्यकर्ताओं की भीड़ उनके निवास के बाहर जमा हो गई। पुलिस को कार्यकर्ताओं को घर से दूर रखने के लिए मशक्कत करनी पड़ी। इस दौरान पूर्व राज्यसभा सदस्य एवं भजनलाल परिवार के नजदीकी रहे पं. रामजीलाल को भी टीम ने घर के अंदर जाने नहीं दिया।

मामले से जुड़े सभी दस्तावेज साथ ले जाएंगे अफसर सूत्रों की मानें तो आयकर विभा ग की इस कार्रवाई को सर्वे नहीं कहा जा सकता है। यह छापेमारी की कार्रवाई के बाद सर्च ऑपरेशन है। आयकर विभाग की भाषा में सर्च ऑपरेशन सबसे देरी तक चलने वाली कार्यवाही होती है, जिसमें उस व्यक्ति के सभी प्रकार के कामकाज, प्रतिष्ठान, आवास यहां तक कि निकटतम लोगों को भी सर्च में शामिल किया जाता है। आयकर विभाग के अधिकारी इस मामले में मिले दस्तावेज, डायरी, रिकॉर्ड आदि को जब्त कर अपने साथ लेकर दिल्ली जाएंगे। जहां इन्वेस्टिगेशन विंग इन सभी रिकॉर्ड पर असेसमेंट का काम शुरू करेगी। कारोबार से जुड़े लोगों के बयान आदि लिए जाएंगे

लाखों की नगदी समेत ज्वलरी आदि कब्जे में ली गई जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग और सीबीआई के 50 अफसरों की टीमों ने सबसे पहले बिश्नोई के दिल्ली स्थित आवास और दफ्तर से छापेमारी की कार्रवाई शुरू की, इसके बाद विभाग की अन्य टीमों ने हरियाणा के हिसार, आदमपुर, गुरूग्राम के आवासों और शोरूमों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की। आयकर विभाग की टीम ने पहले बिश्नोई के ठिकानों से कुछ दस्तावेजों को अपने कब्जे में लिया वहीं सूत्रो के मुताबिक टीम ने हिसार से 4.48, आदमपुर से 1.50, दिल्ली से 2.35 लाख रूपए की नकदी समेत 60 से 70 लाख रूपए की ज्वैलरी कब्जे में ली। लंबे समय से रखी जा रही थी नजर सूत्रो की मानें तो आयकर विभाग लंबे समय से कुलदीप बिश्नोई के डायमंड कारोबार पर नजर रखे हुए था, जिसकी पूरी रूपरेखा दिल्ली में तैयार की गई और करीब 50 अफसरों की टीमें बनाकर सुबह 4 बजे छापेमारी की कार्रवाई के लिए रवाना हुई। कांग्रेस विधायक और बड़ा नेता होने के चलते आयकर विभाग द्वारा भारी पुलिस की भी तैनाती की गई थी।

डायमंड कारोबार के चलते हुई है कार्रवाई छापेमारी की कार्रवाई को बिश्नोई के डायमंड कारोबार के चलते होना बताया जा रहा है, वहीं बिश्नोई परिवार इसे भाजपा का षडय़ंत्र बताते हुए राजनीतिक द्वेष बता रही है। बहरहाल विभाग की टीमों की कुलदीप बिश्नोई के हिसार के ठिकानों पर छापेमारी जारी है अब देखना होगा छापेमारी के बाद विभाग क्या खुलासा करता है और क्या कार्रवाई अमल में लाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here