बिल्डिंगों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगेंगे : मिश्रा

0
रणबीर सिंह रोहिल्ला, सोनीपत।< प्रधानमंत्री आर्थिक सलाहकार समिति भारत सरकार की संयुक्त सचिव श्रीमती सुमिता मिश्रा ने कहा कि जल शक्ति अभियान के तहत जिला सोनीपत में हमें सबसे बेहतर कार्य करने हैं। इसके लिए जिला नगर योजनाकार यह सुनिश्चित करेंगे कि सभी ग्रुप हाउसिंग में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगे हैं और जीएम इंडस्ट्री यह रिपोर्ट देंगे कि जिला के सभी उद्योगों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग लगा हुआ है और चालू स्थिति में है। श्रीमती मिश्रा बुधवार को लघु सचिवालय के प्रथम तल स्थित कांफ्रेस हाल में जिला में जल शक्ति अभियान की प्रगति रिपोर्ट की समीक्षा कर रही थी। श्रीमती मिश्रा ने कहा कि रिहायसी क्षेत्रों में बरसाती पानी पूरा नाले और नालियों में जाता है और यहां रेन वाटर हार्वेस्टिंग के जरिए हम लाखों लीटर पानी बचा सकते हैं। इस दौरान उन्होंने सहायक मृदा संरक्षण अधिकारी को निर्देश दिए कि जिला में जिन 20 तालाबों के नवीनीकरण के लिए प्रस्ताव तैयार किया गया है उन तालाबों पर जल्द से जल्द काम शुरू करवाएं। उन्होंने एचएसआईआईडीसी व उद्योग विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह सभी उद्योगों का डाटा तैयार करें और शत-प्रतिशत उद्योगों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग लगवाएं। श्रीमती मिश्रा ने एचएसवीपी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि शहर में जितने भी एचएसवीपी के पार्क हैं उनमें रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाएं। पीडब्ल्यूडी विभाग ने बताया कि उनकी जिला में 35 बड़ी बिल्डिंग हैं जिनमें कॉलेज, लघु सचिवालय, न्यायायिक परिसर, राई खेलकूद विद्यालय सहित कई प्रतिष्ठान शामिल हैं। उन्होंने निर्देश दिए कि इन सभी प्रतिष्ठानों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाकर इसकी रिपोर्ट दें ताकि बरसाती पानी को अधिक से अधिक संख्या में बचाया जा सके। मीटिंग में श्रीमती मिश्रा ने पंचायती विभाग को निर्देश दिए कि दो हजार से अधिक की आबादी के गांवों का चयन करें और वहां भी रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाएं। उन्होंने कहा कि इस अभियान को सभी अधिकारी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं और प्रतिदिन जल संरक्षण से संबंधित कोई न कोई कार्यक्रम अवश्य करें। सभी रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की जीओ टैगिंग करें। उन्होंने पिछली मीटिंग में दिए निर्देशों की समीक्षा भी की। उन्होंने कहा कि अधिकारी इस अभियान को पूर्ण जिम्मेदारी के साथ पूरा करें और किसी प्रकार की ढील न बरतें। मीटिंग में उपायुक्त डा. अंशज सिंह ने कहा कि जिला में जल शक्ति अभियान को लेकर जिला में लगातार कार्य किए जा रहे हैं। सभी अधिकारियों की लगातार मीटिंग ली जा रही है और प्रतिदिन किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की जा रही है। उन्होंने कहा कि जल संचय हमारी भविष्य की जरूरत है और हम इस अभियान को गंभीरता का साथ पूरा करेंगे। उन्होंने जिला में अब तक जल शक्ति अभियान को लेकर उठाए गए कदमों की जानकारी भी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here