कावड़ भावना, भक्ति व श्रद्धा का प्रतीक

0
रणबीर सिंह रोहिल्ला, सोनीपत। सावन माह में शिवरात्रि के मौके पर शिवलिंग पर गंगाजल के अभिषेक के लिए लाखों की संख्या में श्रद्धालु हरिद्वार से कावड़ लायेंगे, जिसके तहत अतिरिक्त उपायुक्त ने सोमवार के अपने कार्यालय में संबंधित अधिकारियों  को जिला में कावड़ यात्रा को सरल, सुगम, सुविधाजनक तथा सुरक्षित बनाने के लिए पर्याप्त प्रबंध करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अति शीघ्र कावडिय़ों का पहला जत्था हरियाणा में प्रवेश करेगा। अत: कावड़ यात्रा के दौरान अपने गंतव्य तक पहुंचने में कावडिय़ों को किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कावड़ यात्रा को लेकर हर प्रकार के प्रबंधों के लिए गंभीरता से विचार-विमर्श करते हुए जरूरी दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिला के लोग लाखों की संख्या में कावड़ लेकर आते हैं। कावड़ लोगों की आस्था का प्रतीक है, जिसका सम्मान करते हुए जिला में पुख्ता प्रबंध किए जाएं। उन्होंने कहा कि 30 जुलाई की शिवरात्रि है, जिसे ध्यान में रखते हुए कावडिय़ों के पूर्ण व्यवस्था की जाए। अतिरिक्त उपायुक्त ने निर्देश दिए कि कावडिय़ा रूट पर कावडिय़ों के लिए शिविरों का प्रबंध किया जाए, जो कि सडक़मार्गों से पीछे हटकर लगवाये जायें। शिविरों में पेयजल, चिकित्सा, शौचालय आदि की पूर्ण व्यवस्था होनी चाहिए। कावड़ यात्रा के दौरान कावडिय़ों के साथ-साथ ट्रैफिक भी सरलतापूर्वक चलता रहे। कावडिय़ों को निर्देशित करने के लिए बोर्ड, फ्लैक्स आदि लगवाये जायें। कावड़ यात्रा दिन-रात चलेगी, जिसके तहत रात्रि के समय लाइट की पूर्ण व्यवस्था रखी जाए। आर्य ने कहा कि कावड़ लोगों की भावना, भक्ति व श्रद्धा का प्रतीक है। पुलिस-प्रशासन को शिवरात्रि के मौके तक कुछ दिनों का सेवा का अवसर मिल रहा है। इसे सभी अधिकारी-कर्मचारी पूर्ण निष्ठा के साथ निभायें। उन्होंने कहा कि पुलिस की जिप्सी तथा मेडिकल वैन कावड़ यात्रा के साथ-साथ चलती रहनी चाहिए। उन्होंने कहा कि महिला कावडिय़ों के लिए विशेष सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए। सेवा के इस कार्य में स्वयंसेवी संगठनों तथा धार्मिक एवं सामाजिक संगठनों की भी मदद ली जाए। उन्होंने कहा कि प्रमुख तौर पर उत्तर प्रदेश की सीमा बागपत गौरी पुल से कावडियां जिला में प्रवेश करते हैं। अत: वहां कावडिय़ों के लिए उचित व्यवस्था की जाए। उन्होंने बताया कि जिला में कावडिय़ों की सुरक्षा के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा मुख्यत: 08 नाके लगाए गए है जिनमें गन्नौर चौंक जीटी रोड, मुरथल चौंक जीटी रोड, पलडी नाका, बहालगढ चौंक जीटी रोड, बीसंवा मील जीटी रोड, पानीपत रोड टी बिन्दू बाईपास गोहाना, फौहारा चौंक गोहाना, खरखौदा तहसील के सामने शामिल हैं
Previous articleचिल्ला साहिब में गुरू नानक ने किया था चलिया
Next articleप्लास्टिक का बैग रखने वालों के 146 चालान किए : फुलिया
न्यूज पोर्टल की श्रृखला में एक नया नाम सोनीपत 24 न्यूज पोर्टल और जुड़ गया। आप सोच रहे होंगे इसमें कौनसी बड़ी बात है। आखिर हर रोज तो न्यूज पोर्टल बनते रहते हैं। यह सच है कि आज के युग में जो न्यूज पोर्टल बनते हैं। अधिकांश निष्पक्ष और पारदर्शी पत्रकारिता का दावा करते हैं, परंतु जब हम उन्हें देेखते हैं तो हमारी उपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरते हैं और हमें निराशा ही हाथ लगती है, हम पाते हैं कि न्यूज पोटर्ल में खबर ही नहीं। किसी ने राजनीतिक पार्टी में, किसी ने सत्ताधारी पार्टी की हां में हां करके पत्रकारिता के मूल स्वरुप को दूर ले जाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here