सोनीपत के नाहरी गांव में खुलेगा आयुर्वेदिक औषधालय

0
चण्डीगढ़। हरियाणा सरकार ने प्रदेश के विभिन्न स्वास्थ्य केन्द्रों को अपग्रेड करने का निर्णय लिया है, जिसके लिए विभिन्न नए पदों के सृजन को भी मंजूरी प्रदान की गई है। इस संबंध में जानकारी देते हुए हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के प्रस्तावों के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अनुमति उपरांत वित्त विभाग ने यह स्वीकृतियां प्रदान की है। उन्होंने बताया की कुरुक्षेत्र के गाँव सारसा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, करनाल के गाँव सामना बाहू में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और जींद के गाँव करमगढ़ में भी प्राथमिक केंद्र खोलने की मंजूरी प्रदान की गई है। इन्हें खोलने के लिए घोषणाएं मुख्यमंत्री द्वारा की गई थी। इन तीनों केन्द्रों के लिए 30 नये पदों के सृजन को भी मंजूरी दी गई है, जिनमें चतुर्थ श्रेणी के 7 पद अनुबंध आधार पर आउटसोर्सिंग पालिसी पार्ट-1 के तहत भरे जायेंगे और तीनों स्वास्थ्य केन्द्रों के लिए नये भवन का निर्माण किया जाएगा और नए भवन के निर्माण होने की प्रक्रिया के दौरान इन केन्द्रों को अस्थाई भवनों में चलाया जाएगा। वित्त मंत्री ने बताया कि जिला रेवाड़ी के गाँव धवाना में उप-स्वास्थ्य केंद्र खोलने की मंजूरी दी गई है, इसके लिए 3 पद स्वीकृत किये गये हैं। कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि जिला सोनीपत के गाँव नाहरी में आयुर्वेदिक औषधालय खोलने की मंजूरी वित्त विभाग ने प्रदान की है तथा इसके लिए 5 पदों को मंजूरी प्रदान की गई है। इसी प्रकार, सोनीपत के आर्य नगर में जाट धर्मशाला में भी एक आयुर्वेदिक औषधालय की मंजूरी प्रदान की गई है, जिसके लिए 6 पद स्वीकृत किये गये हैं। कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की घोषणा के तहत जींद के गाँव खरक रामजी और नूंह के सिहरी सिंगलहेडी और लहरवाडी में राजकीय पशु चिकित्सालय खोलने को भी मंजूरी प्रदान की गई है और इनके लिए 6 पदों को मंजूरी प्रदान की है तथा इनके भवन के निर्माण के लिए एक करोड़ चार लाख की राशि को भी स्वीकृति प्रदान की गई है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here