प्रभावित लोगों को सुविधाएं न मिली तो अधिकारियों की खैर नहीं : सुधा

0
>कुरुक्षेत्र।  विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि पानी से प्रभावित क्षेत्रों में लोगों को हर प्रकार की जरूरी सुविधाएं मुहैया करवाई जानी चाहिए, अगर अधिकारियों ने अब इस मामलें में जरा सी भी लापरवाही बरती तो सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। इसलिए सभी अधिकारी पानी से प्रभावित क्षेत्रों में पहुंचे और स्थिति को नियंत्रण में लाकर लोगों की हर संभव मदद करना सुनिश्चित करें। विधायक सुभाष सुधा वीरवार को लघु सचिवालय के सभागार में पानी से प्रभावित क्षेत्रों में प्रशासन द्वारा किए जाने वाले प्रबंधों को लेकर अधिकारियों की एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। इससे पहले उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने फीडबैक लेते हुए बताया कि चेतांग नदी की कपैस्टी 300 क्यूसिक पानी की कपैस्टी है जबकि उसमें 5 हजार लीटर पानी छोडा गया, जिसके कारण कुरुक्षेत्र में पानी की स्थिति उत्पन्न हुई है लेकिन शुक्रवार को यह स्थिति बिल्कुल सामान्य हो जाएगी। इस फीडबैक के बाद विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि सबसे पहले पम्प लगाकर पानी निकासी के प्रबंध किए जाए और घरों से टुल्लू पम्प भी लगाएं जाएं।  उन्होंने कहा कि पानी से प्रभावित क्षेत्रों में सभी अधिकारी कनोपी लगाकर उपस्थित रहे और इस अस्थाई कैम्प में स्वास्थ्य सेवाओं के साथ-साथ सभी अधिकारी मौजूद रहेंगे ताकि लोगों को सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा सके। उन्होंने कहा कि पानी निकासी के बाद स्वास्थ्य विभाग, जन स्वास्थ्य विभाग को अर्लट रहकर काम करने की जरूरत होगी। इसके अलावा लोक निर्माण विभाग के अधिकारी पानी से टूटी सडक़ों की मुरम्मत और नव निर्माण करना भी सुनिश्चित करेंगे। सभी अधिकारी इस क्षेत्र को अपना घर समझकर काम करेंगे तो किसी भी व्यक्ति को परेशानी नहीं आएगी। इसके अलावा रैड क्रास, नेहरू युवा केन्द्र, एनजीओ और तमाम समाजसेवी संस्थाएं मिलकर काम करेंगे। इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त पार्थ गुप्ता, एसडीएम अनिल यादव, एसडीएम अश्वनी मलिक, एसडीएम डा. संजय, सीईओ केडीबी संयम गर्ग, डीआरओ डा.चांदी राम चौधरी, सीएमओ डा. सुखबीर सिंह सहित सभी अधिकारी मौजूद थे। उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने कहा कि बारिश व जल प्रभाव से प्रभावित क्षेत्रों में विधायक सुभाष सुधा ने दिनरात कार्य करके अच्छा कार्य किया है और विधायक ने अपनी तरफ से रोजाना 700-800 लोगों का खाने का प्रबंध किया और हर घर तक पीने का पानी व अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई है। विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के पास स्टॉक में हैलोजन/क्लोरिन की 35 हजार गोलियां है, इससे 10 दिन का काम चलेगा लेकिन स्टाक को देखते हुए सीएमओ डा. सुखबीर सिंह द्वारा 1 लाख क्लोरिन की गोलियों का आर्डर दे दिया है। यह गोलिया 2 दिन के अंदर अस्पताल में पहुंच जाएंगी। इस 1 गोली से 20 लीटर पानी को साफ किया जा सकता है। 

24 घंटे डिस्पेंसरी में उपलब्ध रहेंगे चिकित्सक और दवाईयां विधायक सुभाष सुधा के आदेशानुसार उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को पानी से प्रभावित क्षेत्रों में स्थित डिस्पेंसरियों में 24 घंटे चिकित्सकों की टीम उपलब्ध रहेगी और लोगों को 24 घंटे स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाने के साथ-साथ मुफ्त दवाईयां व एम्बुलेंस की सेवाएं भी मुहैया करवाना सुनिश्चित करेंगे। इसके अलावा सीएमओ और अन्य सीनियर अधिकारी निरंतर स्वास्थ्य सेवाओं पर नजर रखेंगे और पल-पल की रिपोर्ट देना सुनिश्चित करेंगे। पीने के पानी के सैम्पल भरने के दिए आदेश<

विधायक सुभाष सुधा ने जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि पानी से प्रभावित सभी जगहों पर पीने के पानी के सैम्पल लिए जाएं और जांच की जाए कि पानी में किसी प्रकार की कोई कमी तो नहीं है। इसके अलावा विभाग के अधिकारी सीवरेज व्यवस्था को दुरूस्त करेेंगे और पानी निकासी के लिए पुख्ता इंतजाम करेंगे। इस मामलें में रत्ती भर भी लापरवाही नहीं होनी चाहिए।

सरस्वती नदी की निशानदेही करने के दिए आदेश<

विधायक ने सरस्वती हेरिटेज बोर्ड के अधिकारियों को निर्देश दिए कि भविष्य में इस प्रकार की आपदा ना आए इसके लिए सबसे पहले सरस्वती नदी की निशानदेही का कार्य पूरा किया जाए और इस निशानदेही के बीच में आने वाले सभी अतिक्रमण को हटाया जाए, अगर सरस्वती का रास्ता साफ होगा तो निश्चित तौर पर भविष्य में लोगों को पानी भराव की कोई समस्या नहीं आएगी। उन्होंने सरस्वती की सफाई समय रहते ना करने पर अधिकारियों को फटकार भी लगाई।

नगरपरिषद को दिए टुल्लू पम्प खरीदने के आदेश<

विधायक सुभाष सुधा ने पानी निकासी के लिए जनस्वास्थ्य विभाग, नगरपरिषद, आपदा प्रबंधन के साथ-साथ सिंचाई विभाग के अधिकारियों को पानी निकासी की रिपोर्ट हासिल करने के बाद कहा कि जिन-जिन क्षेत्रों में पानी निकासी की जा सकती है उनको चिन्न्हित किया जाए और चिन्निहत जगहों पर बडे पम्प लगाएं जाएं। इसके अलावा घरों से पानी की निकासी करने के लिए टुल्लू पम्प की व्यवस्था की जाए। उन्होंने नगरपरिषद की अधिकारियों को 10 टुल्लू पम्प खरीदने के आदेश भी दिए है।

आपदा प्रबंधन के बारें में रिपोर्ट की तलब<

विधायक ने आपदा प्रबंधन के तहत खरीदे गए सामान, तैयारियों और समय रहते किए गए प्रबंधों के बारें में रिपोर्ट देने के आदेश देते हुए कहा कि आपदा प्रबंधन के तहत सरकार के आदेशानुसार अधिकारियों को किसी भी छोटी और बडी आपदा के लिए पहले से तैयार रहना चाहिए। अगर समय रहते तैयारियां पूरी हो तो दिक्कतों का सामना नहीं करना पडता। उन्होंने कहा कि आपदा प्रबंधन के तहत अधिकारियों को तैनात किया जाए और इसके टोल फ्री नम्बर 01744-221035 को भी पूरी तरह से एक्टिव रखें। ;विधायक ने राजस्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि बारिश और जल भराव के कारण किसानों की फसलें खराब हुई है और किसानों को काफी नुक्सान भी हुआ है। इसलिए राजस्व विभाग के अधिकारी सम्बन्धित विभागों के साथ मिलकर फसल खराबे को लेकर एक विशेष रिपोर्ट तैयार करेंगे ताकि इस रिपोर्ट को आगामी कार्रवाई के लिए शीघ्र अति शीघ्र राज्य सरकार के पास भेजा जा सके। विधायक सुभाष सुधा के निर्देशानुसार उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को बारिश से प्रभावित जिले के सभी स्कूलों में केवल बच्चों की 2 दिन की छुट्टïी करने के आदेश दिए है। इन आदेशों के बाद डीईओ अरूण आश्री ने बारिश से प्रभावित जिले के सभी स्कूलों में 2 दिन की छुट्टïी करने के आदेश जारी कर दिए है। इन सभी स्कूलों में शिक्षक नियमित रूप से स्कूलों में आएंगे और स्कूलों की व्यवस्था को दुरूस्त करेेंगे और अगर संभव हो सके तो पानी से प्रभावित लोगों की मदद भी करेंगे। विधायक के आदेशानुसार शिक्षक सभी अभिभावकों से फोन करके फीडबैक भी लेंगे। विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि एसवाईएल में पानी पहले से ज्यादा चल रहा है, इसलिए किसी भी सम्भावित स्थिति से एसवाईएल की सुरक्षा करना और निगरानी रखना बहुत जरूरी है। उन्होंने पुलिस अधीक्षक को एसवाईएल के फाटकों पर विशेष टीम और एनजीओ स्तर के अधिकारी को नियुक्त करने के आदेश दिए है और सिंचाई विभाग के अधिकारी 24 घंटे एसवाईएल पर निगरानी रखेंगे। पानी भराव के कारण प्रभावित क्षेत्रों में 10 से 12 बिजली ट्रांसफार्मर खराब हो चुके है, इसलिए इनकों तुंरत प्रभाव से बदलने के आदेश देते हुए 18 नए ट्रांसफार्मर को शुरू करने के आदेश दिए है। इसके अलावा जरनेटर आदि की व्यवस्था भी बिजली विभाग के अधिकारी सुनिश्चित करेंगे।  विधायक ने नगरपरिषद और जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि गांधीनगर व कीर्तिनगर में मोबाईल शौचालयों की व्यवस्था करना सुनिश्चित करेंगे ताकि लोगों को शौच के लिए किसी प्रकार की कोई परेशानी ना हो।& विधायक ने पानी से प्रभावित क्षेत्रों में वितरित खाना

विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि पानी से प्रभावित लोगों को तीनों टाईम का खाना और पीने के पानी की व्यवस्था निरंतर करवाई जाएगी। इस कार्य में समाजसेवी संस्थाएं भी बढ़चढ़ कर सहयोग कर रही है। विधायक सुभाष सुधा वीरवार को सुबह गांधीनगर, कीर्तिनगर व लायलपुर बस्ती में प्रेरणावृद्घ आश्रम की तरफ से तैयार करवाएं गए सुबह के भोजन वितरित करने के दौरान बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि इस आपदा के समय प्रेरणावृद्घ आश्रम, फोनिक्स क्लब, जेसीआई, रोट्ररी लायन, हरियाणा राज्य राईस मिर्लज,एसजीपीसी गुरूद्वारा प्रबध्ंाक कमेटी सहित अन्य संस्थाओं ने लोगों को खाना, पीने का पानी आदि व्यवस्था करवाने में सरकार का बहुत सहयोग किया है। उन्होंने खेडी मारकंडा में पानी निकासी के लिए मौके पर ही 4 पम्प लगवाएं और अधिकारियों को आदेश दिए कि पानी निकासी के प्रबंधों में किसी प्रकार की कमी नहीं आनी चाहिए और शीघ्र अति शीघ्र पानी निकासी के प्रयास किए जाने चाहिए। 

Previous articleधोखाधडी करके पैसे हडपने का आरोपी गिरफतार
Next articleराजलू गढ़ी में पंचायत के साथ चलाया पौधारोपण अभियान
न्यूज पोर्टल की श्रृखला में एक नया नाम सोनीपत 24 न्यूज पोर्टल और जुड़ गया। आप सोच रहे होंगे इसमें कौनसी बड़ी बात है। आखिर हर रोज तो न्यूज पोर्टल बनते रहते हैं। यह सच है कि आज के युग में जो न्यूज पोर्टल बनते हैं। अधिकांश निष्पक्ष और पारदर्शी पत्रकारिता का दावा करते हैं, परंतु जब हम उन्हें देेखते हैं तो हमारी उपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरते हैं और हमें निराशा ही हाथ लगती है, हम पाते हैं कि न्यूज पोटर्ल में खबर ही नहीं। किसी ने राजनीतिक पार्टी में, किसी ने सत्ताधारी पार्टी की हां में हां करके पत्रकारिता के मूल स्वरुप को दूर ले जाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here