लॉन टेनिस में रेने सिंह ने दोहरा स्वर्ण पदक जीता

0
>लिटल एंजल्स स्कूल के खिलाड़ी रेने सिंह का भारतीय लॉन टेनिस टीम में चयन रणबीर सिंह रोहिल्ला, सोनीपत। जयपुर में आयोजित ऑल इंडिया सुपर सीरीज लॉन टेनिस चैपियनशिप में लिटल एंजल्स स्कूल की स्टार खिलाड़ी रेने सिंह ने दोहरे स्वर्ण पदक जीतकर अपने विद्यालय व प्रदेश का नाम रोशन किया। प्रतियोगिता में लगभग 400 खिलाडिय़ों ने भाग लिया। ऑल इंडिया सुपर सीरीज अंडर-18 के एकल वर्ग के फाइनल में रेने सिंह ने महाराष्ट्र की इष्तिा जाधव को 6-2, 6-3 स्कोर से हराया व युगल मुकाबले के फाइनल में राजस्थान की टीम को 6-4, 6-1 स्कोर से हराकर प्रतियोगिता के महिला वर्ग के दोनों वर्गों के स्वर्ण पदक अपने नाम किए। रेने सिंह की यह जीत उसके अन्तर्राष्ट्रीय कैरियर में बहुत ही भाग्यशाली रही। इस जीत के आधार पर रेने सिंह को सर्बिया में 9 ्रसे 26 जुलाई तक आयोजित प्रतियोगिता में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला। सर्बिया में आयोजित प्रतियोगिता में भारतीय खिलाडिय़ों के लिए प्रतियोगिता के साथ ट्रेनिग कैम्प भी आयोजित किया जायेगा, जोकि खिलाडिय़ों के प्रदर्शन व फिटनेस को और भी बेहतर बनाने में सहायक होगा। रेने सिंह का भारतीय टीम में चयन होना विद्यालय के लिए बहुत ही गौरव की बात है। रेने सिंह के अभिभावकों ने रेने की इस जीत व चयन का श्रेय स्कूल प्रशासन को देते हुए कहा कि विद्यालय के सहयोग से ही यह सफलता से संभव हो पायी है। विद्यालय के चेयरमैन आशीष आर्य, डा. नेहा आर्य व प्रिंसिपल आशा गोयल ने रेने सिंह को भारतीय टीम में चयनित होने पर व सुपर सीरीज लॉन टेनिस चैंपियनशिप में दोहरे स्वर्ण पदक प्राप्त करने पर बधाई दी।  
Previous articleवृक्ष हमारे जीवनदाता : रीना मनी
Next articleपुलिस अधीक्षक मोदी ने कावड़ियों के लिए दिए निर्देश
न्यूज पोर्टल की श्रृखला में एक नया नाम सोनीपत 24 न्यूज पोर्टल और जुड़ गया। आप सोच रहे होंगे इसमें कौनसी बड़ी बात है। आखिर हर रोज तो न्यूज पोर्टल बनते रहते हैं। यह सच है कि आज के युग में जो न्यूज पोर्टल बनते हैं। अधिकांश निष्पक्ष और पारदर्शी पत्रकारिता का दावा करते हैं, परंतु जब हम उन्हें देेखते हैं तो हमारी उपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरते हैं और हमें निराशा ही हाथ लगती है, हम पाते हैं कि न्यूज पोटर्ल में खबर ही नहीं। किसी ने राजनीतिक पार्टी में, किसी ने सत्ताधारी पार्टी की हां में हां करके पत्रकारिता के मूल स्वरुप को दूर ले जाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here