सेहत न बिगाड़ दे बदलता मौसम

0
>वायरल मौसम में रहती है बीमारियां होने की प्रबल संभावना
रणबीर सिंह रोहिल्ला, सोनीपत।<गर्मी से निजात दिलाने के लिए मानूसन का समय पर आना आवश्यक है। बारिश का मौसम जहां फसलों के लिए वरदान साबित होता है। वहीं यह सेहत के लिए कई बार नुकसानदायक बन जाता है। वर्षा ऋतु में थोड़ी सी लापरवाही सेहत को बिगाड़ सकती है। डा. शिव कुमार आयुर्वेदाचार्य की राय है कि बदलते मौसम में लोगों को अपना स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए कुछ एहतियात बरतनी चाहिए। वायरल मौसम के कारण गला खराब, जुकाम, खांसी, बदन दर्द, फ्लू, बुखार एवं चर्म रोग, डेंगू, मलेरिया, फंगल इंफेक्शन होने की प्रबल संभावना रहती है। डा. शिव कुमार आयुर्वेदाचार्य का कहना है कि बरसात के मौसम में लगातार वातावरण में नमी बनी रहती है, जो शरीर पर विपरीत असर डालती है। जल जनित बीमारियां जैसे पीलिया, बुखार, टायफायड, पेट दर्द, आई इंफेक्शन व जुकाम-एलर्जी आदि बीमारियों का प्रकोप अधिक रहता है। बारिश की वजह से पीने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला जमीनी पानी दूषित हो जाता है और उससे रोग उत्पन्न होने का खतरा बढ़ जाता है। मच्छरों का प्रकोप होने से मलेरिया व डेंगू जैसी बीमारियां पैदा हो जाती हैं। डा. शिव कुमार का कहना है कि इस मौसम में बीमारियों से बचने के लिए खानपान व कपड़े आदि डालने में सतर्कता बरतनी काफी फायदेमंद रहती है। खाने में बासी चीजों का कतई इस्तेमाल न करें और स्वच्छ पानी पीकर स्वस्थ रहें। डा. शिव कुमार आयुर्वेदाचार्य ने कहा कि इस सबसे बचने के लिए हमें ये उपाय करने चाहिए। हल्का सुपाच्य तथा अच्छी प्रकार से पक्का हुआ आहार का सेवन करना चाहिए, आहार से पहले हाथों को अच्छी प्रकार से साफ करना चाहिए, प्रतिदिन योग एवं प्राणायाम करना चाहिए, पानी को स्थिर नहीं होने दे, स्थिर पानी में मच्छर पैदा होने की संभावना रही है, जिससे मलेरिया, डेंगू इत्यादि होने का डर बना रहता है। डा. शिव कुमार ने कहा कि शरीर को पूर्ण रूप से ढक कर रखे, जहां तक हो सके रात को सोने के समय मच्छरदानी का प्रयोग करना चाहिए। पानी को उबालकर ठंडा होने के बाद छानकर ही सेवन करना उचित है। फलों और सब्जियों को अच्छी प्रकार से धोकर ही प्रयोग करना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। बाजार में सडक़ किनारे बिकने वाले कट्े फलोंं को खाने से बचना चाहिए। घर व आसपास में प्रतिदिन साफ सफाई रखनी चाहिए। बदलते मौसम में बच्चे व बुढों का विशेषतौर पर ध्यान रखना जरूरी है, क्योंकि इनमें इंफेक्शन होने की ज्यादा संभावना रहती है। जहां तक हो सके जंक फूड से बचना चाहिए। फलों, अदरक, शहद, तुलसी इत्यादि का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here