जिले को स्वच्छ बनाने के लिए सोलिड वेस्ट मेनेजमेंट के कार्य में तेजी लाए : सिंह

0
अमन अटकान, सोनीपत। स्वच्छता एक अहम मुद्ïदा है, इसे गंभीरता से लेना है। स्वच्छता बनाए रखने के लिए नैशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की ओर से सोलिड वेस्ट, प्लास्टिक वेस्ट, बायोमैडिकल वेस्ट, ई-वेस्ट तथा कंस्ट्रक्शन व डैमोलिशन वेस्ट के प्रबंधन के लिए जो नियम बनाए गए हैं, उनको सफल तरीके से क्रियान्वित करना सुनिश्चित करें। उपायुक्त डॉ0 अंशज सिंह ने शुक्रवार को लघु सचिवालय  में सोलिड वेस्ट मेनेजमेंट से जुडे विषय पर अधिकारियों की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि एनजीटी की ओर से बनाए गए एक्शन प्लान के अनुसार कार्य किया जाना है जो निश्चत समय अवधि में पूरा होना है।  उन्होंने कहा कि अगर नगर निगम व नगर पालिकाओं के पास संसाधनों के लिए धनराशि की कमी है, वे इसे बारे तुरंत अवगत कराए। सिंह ने कहा कि लोगो में जागरूकता जरूरी है। सामान को लाने-ले जाने के लिए लोग प्लास्टिक कैरी बैग की जगह कपड़े या जूट के थैलो का इस्तेमाल करें। उन्होनें नगर निगम व नगरपालिका के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोई भी दुकानदार पोलीथीन बेचता हुआ पाया जाता है तो उसका चालान किया जाए।  नगर निगम व नगरपालिकाओं में डोर-डोर कचरा संग्रहण करना सुनिश्चत करें। उन्होंने बताया कि अगली मीटिंग तक सभी संबंधित अधिकारी अपनी रिपोर्ट तैयार करें कि उन्होंने वेस्ट मेनेजमेंट रुल के क्रियांवन के लिए क्या तैयारी की है। उन्होंने कहा कि बैकट हॉल, धर्मशाला इत्यादि जो ब्लैक में कूढा जरनेट करने वाली श्रेणी में आते है वे सोलिट वेस्ट रुल के तहत अपने कूढे का स्वयं निष्पादन करें, यदि वे नियम की अवहेलना करते है तो उनके विरुद्घ कार्यवाही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here