ढाबा संचालकों ने लिया जल शक्ति अभियान में भागीदार बनने का संकल्प : डा. सिंह

0
प्रत्येक बिल व मैन्यू कार्ड पर जल बचाओ अभियान का संदेश किया जाएगा प्रकाशित, ढाबा संचालक मिलकर पौधरोपण अभियान भी चलाएंगे, जल शक्ति अभियान देंगे पूरी भागीदारी  < रणबीर सिंह रोहिल्ला, सोनीपत। जल व पर्यावरण संरक्षण के लिए चलाए जा रहे जल शक्ति अभियान में जिला के लोगों ने जुडऩा शुरू कर दिया है। इस श्रंखला में सबसे पहले सामने आए हैं देशभर में प्रसिद्ध मुरथल के ढाबों के संचालक। सभी ढाबा संचालकों ने संकल्प लिया है कि वह प्रशासन के इस अभियान में कदम स कदम मिलाकर आगे बढ़ेंगे। अभियान को लेकर मंगलवार को उपायुक्त डा. अंशज सिंह ने लघु सचिवालय के कांफ्रेस हाल में सभी ढाबा संचालकों के साथ मीटिंग भी की। डा. अंशज ने बताया कि आज हमारा भूजल स्तर लगातार नीचे जाता जा रहा है। इसी वजह से भारत सरकार द्वारा जल शक्ति अभियान की शुरूआत की गई है। उन्होंने कहा कि बरसाती पानी हमारे लिए बहुत बड़ी सौगात है और हम पूरे भारत में मात्र एक प्रतिशत बरसाती पानी का ही संचय कर पाते हैं। उन्होंने बताया कि जल शक्ति अभियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 27 जून को शुरू किया गया था। उन्होंने कहा कि योजना का उद्देश्य देश के उन जिलों में जल संरक्षण के लिए कार्य करना है जहां पर भूजल स्तर लगातार गिरता जा रहा है। इस योजना में सोनीपत के चार बलाक सोनीपत, राई, मुरथल व गन्नौर खंड को शामिल किया गया है। योजना को दो चरणों में लागू किया जाएगा। पहला चरण एक जुलाई 2019 से 15 सितंबर 2019 तक चलेगा और दूसरा चरण एक अक्टूबर से 13 नवंबर तक चलेगा। इस दौरान उन्होंने सभी ढाबा संचालकों से आह्वान किया कि वह भी जल संचय के इस अभियान में आगे बढ़ें। इस दौरान सभी ढाबा संचालकों से आह्वान किया कि वह अपने ढाबों पर भूजल रिचार्ज के लिए प्रबंध करवाएं। इस दौरान ढाबा संचालकों ने बताया कि हम सभी ने भूजल रिचार्ज के लिए प्रबंध किए हैं और इन्हें और ज्यादा मजबूत करेंगे। इस दौरान सभी ढाबा संचालकों ने संकल्प लिया कि वह अपने ढाबों पर आने वाले लोगों को जल व पर्यावरण संरक्षण हेतू प्रेरित करने के लिए सभी बिलों पर जल संरक्षण के श्लोगन लिखवाएंगे। बैनरों के जरिए भी लोगों को संदेश दिया जाएगा। इसके साथ ही उनके ढाबों पर जितना भी पानी प्रयोग होता है उसे रिसाईकिल कर प्रयोग में लाया जाएगा। इस दौरान ढाबा संचालकों ने कहा कि वह सभी मिलकर सामुहिक तौर पर पौधारोपण के लिए अभियान चलाएंगे। इसके लिए उपायुक्त ने कहा कि वह अभियान में स्वयं शामिल होंगे और जहां-जहां भी खाली स्थान हैं वहां पर पौधरोपण अवश्य करें। इस दौरान मंजीत सिंह, गुलशन कुमार, अभिजीत, आशु, अशोक, प्रवेश कम्बोज, जेपी कंसल, दीपक, दयानंद, सतपाल सिंह, सतीश कुमार, वैभव गोयल, संदीप आहुजा, राजेन्द्र कुमार, कपील, विपिन कुमार, विक्रम सिंह, बलजीत सिंह, अमोद छिक्कारा व विरेन्द्र सहित सभी ढाबों के प्रतिनिधि मौजूद थे।
Previous articleकेवल भाषणों से नहीं होगा सबका-साथ, सबका-विकास : सैनी
Next articleहर व्यक्ति को योग सीखने की जरूरत : कविता जैन
न्यूज पोर्टल की श्रृखला में एक नया नाम सोनीपत 24 न्यूज पोर्टल और जुड़ गया। आप सोच रहे होंगे इसमें कौनसी बड़ी बात है। आखिर हर रोज तो न्यूज पोर्टल बनते रहते हैं। यह सच है कि आज के युग में जो न्यूज पोर्टल बनते हैं। अधिकांश निष्पक्ष और पारदर्शी पत्रकारिता का दावा करते हैं, परंतु जब हम उन्हें देेखते हैं तो हमारी उपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरते हैं और हमें निराशा ही हाथ लगती है, हम पाते हैं कि न्यूज पोटर्ल में खबर ही नहीं। किसी ने राजनीतिक पार्टी में, किसी ने सत्ताधारी पार्टी की हां में हां करके पत्रकारिता के मूल स्वरुप को दूर ले जाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here