युवा पीड़ी पर्यावरण शुद्धि के लिए पौधारोपण करें : विकास रोहिल्ला

0
बच्चों को अच्छी शिक्षा के लिए मोबाइल से दूर रखें, बैठक में शिक्षा के क्षेत्र में किस प्रकार समाज को आगे बढ़ाया जाए इस पर मंथन किया<
रणबीर सिंह रोहिल्ला, रोहतक। स्थानीय रेस्ट हाउस में रोहतक रोहिल्ला ्रग्रुप की एक सामान्य परिचय बैठक आयोजित की गई। जिसमें पूरे रोहतक जिले से सामाजिक, राजनीतिक व विभिन्न प्रमुख पदों पर कार्य करने वाले गणमान्य व्यक्ति शामिल हुए। बैठक की अध्यक्षता रोहिल्ला टॉक सभा के प्रधान गोवर्धन रोहिल्ला ने की। बैठक में समाज उत्थान के लिए कार्य करने का निर्णय लिया गया। बैठक में निर्णय लिया कि इस प्रकार की सामाजिक बैठक का आयोजन नियमित अंतराल पर करते रहेंगे। रोहिल्ला समाज आने वाले समय में सभी के साथ मिलकर सामाजिक कार्य करेंगे। जिसमें रक्तदान शिविर, अधिक से अधिक पेड़ पौधे लगाना, शिक्षा के क्षेत्र में किस प्रकार समाज को आगे बढ़ाया जाए आदि कार्य प्रमुख होंगे। बैठक में विकास रोहिल्ला ने कहा कि अब समय आ गया है कि रोहिल्ला समाज को राजनीति में हर हाल में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी होगी, तभी समाज आगे बढ़ सकेगा। उन्होंने कहा कि राजनीति में भागीदारी तभी संभव हो सकेगी, जब रोहिल्ला समाज के लोग एकजुटता के साथ शक्ति प्रदर्शन करेंगे। विकास रोहिल्ला ने युवा पीड़ी का आह्वान किया कि वे पर्यावरण शुद्धि के लिए पौधारोपण कर उनकी देखभाल भी करे। उन्होंने कहा कि बच्चों को अच्छी शिक्षा व संस्कार देने की जरूरत है, क्योंकि आज की चकाचौंध भरी जिंदगी में बच्चे मोबाइल से चिपके रहते हैं, जिसके कारण उनमें संस्कारों की कमी आ रही है। उन्होंने कहा कि माता-पिता को चाहिए कि वे अपने बच्चों को पढ़ाई के समय मोबाइल से दूर रखें। इस बैठक में डॉ. जितेंद्र रोहिल्ला, भारत विकास परिषद विजय रोहिल्ला, ज्योत्सना रोहिल्ला, डॉ. पवनजीत रोहिल्ला, रिटायर्ड डीएसपी पृथ्वी सिंह रोहिल्ला, एक्शन बीएंडआर अनिल रोहिल्ला, रमेश चंद रोहिल्ला, कृष्ण रोहिल्ला, डॉ नरेंद्र रोहिल्ला, एडवोकेट पवन रोहिल्ला, एडवोकेट नरेंद्र रोहिल्ला, जेई अमित रोहिल्ला, देवेंद्र रोहिल्ला, ओमप्रकाश रोहिल्ला व अन्य रोहिल्ला समाज के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित।
Previous article7 साल में सबसे देरी से आया मॉनसून
Next articleदेश के 58 शहरों को बनाया जाएगा अशक्त लोगों के अनुकूल : कविता जैन
न्यूज पोर्टल की श्रृखला में एक नया नाम सोनीपत 24 न्यूज पोर्टल और जुड़ गया। आप सोच रहे होंगे इसमें कौनसी बड़ी बात है। आखिर हर रोज तो न्यूज पोर्टल बनते रहते हैं। यह सच है कि आज के युग में जो न्यूज पोर्टल बनते हैं। अधिकांश निष्पक्ष और पारदर्शी पत्रकारिता का दावा करते हैं, परंतु जब हम उन्हें देेखते हैं तो हमारी उपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरते हैं और हमें निराशा ही हाथ लगती है, हम पाते हैं कि न्यूज पोटर्ल में खबर ही नहीं। किसी ने राजनीतिक पार्टी में, किसी ने सत्ताधारी पार्टी की हां में हां करके पत्रकारिता के मूल स्वरुप को दूर ले जाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here