नहरी सडक बनेगी जीटी रोड का विकल्प, अब तैयार होगी डीपीआर

0
>200 करोड रूपए की राशि खर्च कर 24.78 किलोमीटर खण्ड पर पर फर्राटे भरेंगे हजारों वाहन< >रणबीर सिंह रोहिल्ला, सोनीपत। सोनीपत-पानीपत के हजारों वाहन चालकों को अब पश्चिमी यमुना नहर और कैरियर लाइन चैनल के बीच की नहरी सडक़ को पानीपत के डिंडर गांव से सोनीपत के बडवासनी तक राष्ट्रीय राजमार्ग 44 के विकल्प के तौर विकसित करने के प्रोजेक्ट के लिए 200 करोड रूपए का बजट मंजूर हो गया है। इससे स्थानीय नागरिकों को दिल्ली की ओर आवागमन का सुगम रास्ता उपलब्ध होगा, वहीं वाहनों के दबाव और इस मार्ग पर होने वाले हादसों में कमी आएगी। यह संभव हुआ है सोनीपत विधायक एवं शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन एवं मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन के प्रयासों की बदौलत। दरअसल, पश्चिमी यमुना नहर और कैरियर लाइन चैनल के बीच की नहरी सडक़ पर वाहनों के बढ़ते दबाव और सडक की बिगड़ती हालत से होने वाले हादसों पर संज्ञान लेते हुए उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को इसका समाधान तलाशने के निर्देश दिए थे। इसके बाद अधिकारियों ने पहले इस मार्ग के लिए स्पेशल रिपेयर कराने का प्रस्ताव दिया, जिसे मंत्री कविता जैन एवं मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से 2 करोड रूपए मंजूर कराकर वाहन चालकों को राहत दिलाई थी। इसके बाद मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 44 पर मुकरबा चैक, सिंघु बार्डर से होते हुए बहालगढ, मुरथल और पानीपत तक बढ रहे जाम और भविष्य में यातायात अवरूद्ध होने की संभावना को ध्यान में रखते हुए इस नहरी मार्ग को जीटी रोड के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल कराने की संभावना पर जोर दिया। इस संभावना पर काम करते हुए हरियाणा राज्य सडक विकास निगम के स्थानीय अधिकारियों ने दिल्ली के हरेवली से लेकर पानीपत के डिंडर गांव तक इस खण्ड को सात मीटर निर्माण कराने तथा वाहनों के दबाव के अनुकूल तैयार करने के मुताबिक 334 करोड रूपए का प्रस्ताव दिया। प्रस्ताव को मुख्यमंत्री ने मंजूरी देते हुए राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र योजना बोर्ड को भेज दिया था। बोर्ड की 57वीं बैठक में इस प्रोजेक्ट के पानीपत के डिंडर गांव से सोनीपत के बडवासनी तक के 24.78 किलोमीटर खण्ड के लिए 150 करोड रूपए ऋण तथा प्रदेश सरकार द्वारा 50 करोड रूपए खर्च किया जाएगा। यही नहीं बडवासनी से दिल्ली के हरेवली तक के खण्ड की रिपेयर होगी, क्योंकि दिल्ली में नेशनल हाइवे 334 के तहत शहरी बाहरी मार्ग के तौर पर हरेवली होते हुए बडवासनी तक विस्तार किया जाना प्रस्तावित है। मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने बताया कि इस मार्ग पर सोनीपत में रोहतक रोड पर रोहट, गोहाना रोड पर बडवासनी पर जंक्शन एवं जींद-गोहाना रेलवे लाइन पर  उपरगामी पुल को बनाया जाएगा। यही नहीं रोहट, ककरोई, महलाना, बडवासनी, हुल्लेहडी, चिटाना, माहरा, जुआं, कैलाना, सिटावली, महमूदपुर माजरा, खूबडू, सरढाना, आहुलाना, नया बांस, डिंडार गांव व इनके साथ लगते दर्जनों गांवों के ग्रामीणों का सीधा जुडाव इस मार्ग से होगा और आस-पास के क्षेत्र में आर्थिक सम्पन्नता आना संभव हो जाएगा।
Previous articleजीआरपी थाने के पास युवक को चाकू मारे, पीजीआई खानपुर रेफर
Next articleइनेलो के दो और दिग्गज नेता भाजपा में शामिल
न्यूज पोर्टल की श्रृखला में एक नया नाम सोनीपत 24 न्यूज पोर्टल और जुड़ गया। आप सोच रहे होंगे इसमें कौनसी बड़ी बात है। आखिर हर रोज तो न्यूज पोर्टल बनते रहते हैं। यह सच है कि आज के युग में जो न्यूज पोर्टल बनते हैं। अधिकांश निष्पक्ष और पारदर्शी पत्रकारिता का दावा करते हैं, परंतु जब हम उन्हें देेखते हैं तो हमारी उपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरते हैं और हमें निराशा ही हाथ लगती है, हम पाते हैं कि न्यूज पोटर्ल में खबर ही नहीं। किसी ने राजनीतिक पार्टी में, किसी ने सत्ताधारी पार्टी की हां में हां करके पत्रकारिता के मूल स्वरुप को दूर ले जाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here