बिजली-पानी को लेकर अधिकारियों को अलर्ट रहने के निर्देश

0
मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार ने दिए आवश्यक दिशा-निर्देश,  बरसात में देरी के चलते पूरी व्यवस्था पर अधिकारी करें निगरानी< >रणबीर सिंह रोहिल्ला, सोनीपत। मानसून में देरी की संभावना को देखते हुए मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने बिजली-पानी व्यवस्था को बेहतर रखने के लिए अधिकारियों को अलर्ट रहने तथा लगातार इन विषय से जुडे घटनाक्रम की निगरानी करते हुए आमजन को कोई परेशानी नहीं आने देने के निर्देश दिए हैं। बढती गर्मी के चलते जहां एक सप्ताह की सरकारी तथा गैर सरकारी स्कूलों के अवकाश को बढाया गया है। वहीं गर्मी की तपिश और मानसून आने में हो रही देरी के चलते बिजली और पानी की बढती खपत के मद्देनजर पूरी तैयार से अधिकारियों को तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं। अधिकारियों के साथ बैठक उपरांत मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने बताया कि बढती गर्मी से एकाएक बिजली की खपत में भारी वृद्धि दर्ज की गई है। यही नहीं तय लोड से अधिक लोड होने से ट्रांसफार्मर और बिजली की तारों पर दबाव बना हुआ है। इससे कई स्थानों पर ट्रांसफार्मर में खराबी की शिकायतें आ रही हैं। इसे ध्यान में रखते हुए बिजली निगम के अधिकारियों को अलर्ट होकर ऐसी शिकायतों के जल्द से जल्द निदान की व्यवस्था करने के लिए आदेश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि बिजली आपूर्ति बाधित होने की स्थिति में कर्मचारियों की संख्या बढाने के निर्देश दिए गए थे, जिसके बाद माडल टाउन सब डिवीजन में 9, इंडस्ट्रियल एरिया सब डिवीजन और सिटी सब डिवीजन में चार-चार कर्मचारियों को अतिरिक्त ड्यूटी पर लिया गया है। वहीं 6 सब स्टेशन सहायक माडल टाउन सब डिवीजन में नियुक्त किए गए हैं। उन्होंने बताया कि बिजली निगम अधिकारियों को टोल फ्री नंबर पर आमजन को उचित रिस्पांस देने तथा समस्या के समाधान करने के निर्देश दिए। इसके लिए शिकायत केंद्र पर 0130-2244772, 0130-2251420, 9315609740, टोल फ्री नंबर 18001801550 तथा इंडस्ट्रियल एरिया और सिटी सब डिवीजन के लिए 7027974138 व 7027974139 पर उपभोक्ता संपर्क कर सकते हैं।  मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने कहा कि इसी प्रकार पेयजलापूर्ति को बेहतर बनाने के लिए अतिरिक्त टैंकर की व्यवस्था करने के लिए जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग एवं नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि गर्मियों के दौरान एकाएक खपत बढने के कारण ही ऐसी स्थिति आती है, जिसके लिए उन्होंने आमजन से आह्वान किया कि वह आवश्यक्ता अनुसार बिजली एवं पानी का उपयोग करें, ताकि इसकी किल्लत न हो। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here